October 4, 2022

राजस्थान कांग्रेस विधायकों और मंत्रियों की बैठक बुलाई गई है;

राजस्थान में सियासी संकट ने कांग्रेस की चिंता बढ़ा दी है। इसी के साथ राज्य में सियासी हलचल बढ़ गई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज रात जयपुर में कांग्रेस विधायकों और मंत्रियों की बैठक बुलाई है। 

अशोक गहलोत – सीएम राजस्थान


वहीं, रविवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने साफ तौर पर सार्वजनिक रूप से माना कि वह राजस्थान के हालात को लेकर कांग्रेस के लिए चिंतित हैं। 
उन्होंने ट्विटर पर लिखा- पार्टी के लिए चिंतित हूंं। क्या हम अपने अस्तबल से घोडे़ भगाए जाने के बाद जागेंगे?

बता दें कि राजस्थान में राजनीतिक उठापटक के बीच कांग्रेस से नाराज चल रहे राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट एवं उनके समर्थक 22 विधायक शनिवार को तावडू स्थित आईटीसी ग्रैंड होटल में पहुंचे। हालांकि, देर शाम सचिन पायलट दिल्ली चले गए। कांग्रेस विधायकों के आने के साथ ही होटल के बाहर हरियाणा पुलिस की गतिविधियां बढ़ गईं।

सूत्रों के अनुसार यहां विधायकों के आने की सूचना पहले से ही थी। इस कारण होटल के गेट से पहले सड़क पर ही बैरीकेड लगाकर सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया था। विधायकों के आने के बाद सुरक्षाकर्मी काफी सतर्क हो गए और होटल में आने वालों को कड़ी पूछताछ के बाद प्रवेश दिया गया। पुलिस भी होटल के बाहर चक्कर लगा रही है और यहां आने वाली गाड़ियों पर नजर बनाए हुए है। 

दरअसल, पुलिस को अंदेशा है कि कांग्रेस के नाराज विधायकों को यहां से जबरदस्ती ले  जाने के लिए उनकी पार्टी के नेता आ सकते हैं। बताया जा रहा है कि देर रात होटल में कांग्रेस विधायकों से मिलने के लिए भाजपा नेताओं के आने की संभावना है। कांग्रेस के बागी विधायक भाजपा के संपर्क में बताए जा रहे है और भाजपा इनके सहारे राजस्थान में अपनी सरकार बनाने में जुटी हुई है।