October 8, 2022

16 से 31 जुलाई से बिहार प्रदेश में रहेगा लॉकडाउन

देश में कोरोना मरीजों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है। बीते 3 दिनों में ही 1 लाख नए मरीज सामने आ चुके हैं, इसके साथ ही कोरोना मरीजों का आंकड़ा 9 लाख को पार कर गया है। हर गुजरते दिन के साथ यह घातक संक्रमण और तेजी से अपने पैर पसार रहा है। अनलॉक होने के बाद अब कई राज्यों में दोबारा लॉकडाउन की स्थिति बनने लगी है। महाराष्ट्र, यूपी, कर्नाटक, ओडिशा, असम सहित कई राज्यों में कुछ जिलों में लॉकडाउन लगाया जा चुका है, वहीं अन्य राज्यों में भी अब स्थिति बिगड़ती दिखाई दे रही है। एमपी में रविवार को लॉकडाउन करने का फैसला लिया गया है। जिस रफ्तार से नए कोरोना मरीज सामने आ रहे हैं उससे आशंका जताई जा रही है कि अगले दो से तीन दिनों में देश में कोरोना मरीजों की संख्या 10 लाख पार कर जाएगी।

बिहार में पूर्ण लॉकडाउन होगा लागू

बिहार में एक बार फिर पूर्ण लॉकडाउन होने जा रहा है। मंगलवार को सरकार ने आला अधिकारियों की बैठक बुलाई थी इसमें लॉकडाउन पर फैसला हुआ है। नीतीश सरकार ने राज्य में 16 से 31 जुलाई तक लॉकडाउन करने का निर्णय लिया है। राज्य में पिछले कुछ दिनों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। जून महीने में एक दिन में पॉजिटिव केस मिलने की रफ्तार दो से ढाई सौ थी वहीं जुलाई में अब 11 सौ से 12 सौ मामले मिलने लगे हैं। मुख्यसचिव के निर्देश के बाद पहले भागलपुर और उसके बाद 10 जुलाई से पटना में आंशिक लॉकडाउन लागू किया गया। अगले ही दिन करीब 15 जिलों में आंशिक लॉकडाउन लगा दिया गया। अब सरकार ने लॉकडाउन को लेकर कठोर कदम उठाने का फैसला किया है।