October 8, 2022

शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ प्रचार करेंगे उन्ही के साले-साहब संजय मसानी

मध्यप्रदेश में उपचुनाव से पहले कांग्रेस ने राजनीति का बड़ा गेम खेला है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के की पत्नी से भाई (साले-साहब) संजय सिंह मसानी को कांग्रेस ने बड़ी जिम्मेदारी दी है। मसानी उस समय सुर्खियों में आ गए थे जब पिछले चुनाव से एन पहले वे अपनी दीदी और जीजाजी से भी बगावत करके कांग्रेस खेमे में शामिल हो गए। इसके बाद उन्हें कांग्रेस ने वारासिवनी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ाया था, हालांकि वे हार गए थे। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने मसानी को प्रदेश कांग्रेस का उपाध्यक्ष बना दिया है। कांग्रेस ने मसानी को उपचुनाव में प्रचार-प्रसार के लिए प्रादेशिक समन्वयक और प्रभारी भी बनाया गया है। वे संबंधित क्षेत्रों में दौरा कर कांग्रेस प्रत्याशियों को जीत दिलाने में सहयोग करेंगे।

संजय सिंह मसानी ने शिवराज पर लगाए थे आरोप

संजय सिंह मसानी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साले-साहब हैं। 2018 में विधानसभा चुनाव से पहले वे कांग्रेस में चले गए थे और उन्होंने अपने जीजा पर गंभीर आरोप लगाए थे। इसके बाद उन्हें कांग्रेस ने वारासिवनी से चुनाव लड़ाया था। हालांकि इसी सीट पर कांग्रेस नेता प्रदीप जायसवाल ने भी बगावत कर दी थी और वे निर्दलीय चुनाव जीत गए थे। चुनाव में संजय तीसरे नंबर पर रहे थे।