October 4, 2022

मध्यप्रदेश में एक्टिव केस 8000 से ज्यादा, 830 की मौत

मध्यप्रदेश में महामारी से पीड़ित नागरिकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। 28 जुलाई 2020 को यह संख्या 8000 से ज्यादा (8044) हो गई। इसका अर्थ होता है नागरिकों में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है जबकि उनके स्वस्थ होने की संख्या कम है। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से पीड़ित 10 नागरिकों की मृत्यु हो गई। मध्य प्रदेश के 3226 इलाके संक्रमित पाए गए हैं। 

Delhi LG forms high-level panel to effectively deal with Covid-19 ...
प्रतीकात्मक फ़ोटो

भोपाल की स्थिति संभाले नहीं संभल रही है। लॉकडाउन के चौथे दिन 170 पॉजिटिव दर्ज करने पड़े। लोगों का कहना है कि पॉलिटिकल कार्यक्रमों के कारण शहर में संक्रमण फैल गया और सिचुएशन कंट्रोल करने के लिए बाजार बंद करा दिया गया है। आज की रिपोर्ट में इंदौर अंडर हंड्रेड आ गया है। इंदौर कलेक्टर ने इसकी भविष्यवाणी पहले ही कर दी थी। 

ग्वालियर में नए मामलों की तुलना में डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है। जबलपुर की स्थिति गंभीर होती जा रही है। एक्टिव केस 305 हो गए हैं। मध्य प्रदेश के 14 जिलों में 100 से ज्यादा एक्टिव केस दिखाई दे रहे हैं।

संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलेटिन दिनांक 28 जुलाई 2020 (शाम 6:00 बजे तक) के अनुसार पिछले 24 घंटे में:-
  • 12691 सैंपल की जांच की गई। 
  • 199 सैंपल रिजेक्ट हो गए। 
  • 12063 सैंपल नेगेटिव पाए गए। 
  • 628 सैंपल पॉजिटिव पाए गए। 
  • 10 मरीजों की मौत हो गई। 
  • 552 मरीज डिस्चार्ज किए गए। 
  • मध्यप्रदेश में संक्रमित नागरिकों की कुल संख्या 29217
  • मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 830
  • मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से स्वस्थ हुए नागरिकों की संख्या 20343
  • 28 जुलाई 2020 को संक्रमित नागरिकों की संख्या 8044
  • 28 जुलाई 2020 को मध्यप्रदेश में संक्रमित इलाकों की संख्या 3226