October 4, 2022

अयोध्या में भगवान राम मंदिर निर्माण का शिलान्यास अशुभ मुहूर्त में हो रहा है – दिग्विजय सिंह

अयोध्या समेत देशभर में उत्सव का माहौल है, लेकिन शिलान्यास के मुहूर्त को अशुभ बताने वाले राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर ट्वीट कर इस भूमिपूजन को मान्यताओं के विपरीत बताया है।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह पिछले कुछ दिनों से रामजन्म भूमि पर हो रहे शिलान्यास के मुहूर्त को अशुभ बताकर सुर्खियों में हैं। वे कुछ दिनों से अशुभ बताने पर सोशल मीडिया पर ट्रोल भी हो रहे हैं। बुधवार को भी सुबह उन्होंने एक ट्वीट कर कहा है कि आज अयोध्याजी में भगवान रामलला के मंदिर का शिलान्यास वेद द्वारा स्थापित ज्योतिष शास्त्र की स्थापित मान्यताओं के विपरीत हो रहा है, बे प्रभु हमें क्षमा करना। यह निर्माण निर्विघ्न रूप से पूरा हो, यही हमारी आप से प्रार्थना है। जय सिया राम।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि अयोध्या में भगवान राम मंदिर निर्माण का शिलान्यास अशुभ मुहूर्त में हो रहा है। हमारे हिन्दू (सनातन) धर्म द्वारका और जोशीमठ के सबसे वरिष्ठ शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंदजी महाराज का संदेश और शास्त्रों के आधार पर प्रमाणित तथ्यों पर वक्तव्य अवश्य देखें।

इससे पहले भी किया ट्वीट :-:

इससे पहले दिग्विजय सिंह ने सोमवार को भूमिपूजन को कोरोना से जोड़ दिया था। उन्होंने ट्वीट किया था- ‘मंदिर पूजन के लिए हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज किया गया है। इसी वजह से गृह मंत्री अमित शाह से लेकर राम मंदिर के पुजारी तक कोरोना संक्रमित हो गए हैं। एक ट्वीट में दिग्विजय ने अमित शाह को प्रधानमंत्री लिख दिया। बाद में उन्होंने इस पर खेद भी जताया। इससे पहले मंगलवार को भी दिग्विजय ने ट्वीट कर कहा था कि सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नज़र अंदाज करने का नतीजा।

1- राम मंदिर के समस्त पुजारी कोरोना पोजिटिव
2- उत्तर प्रदेश की मंत्री कमला रानी वरुण का कोरोना से स्वर्गवास
3- उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष कोरोना पोजिटिव अस्पताल में।


दिग्विजय सिंह ने यह भी कहा था कि भगवान राम करोड़ों हिंदुओं के आस्था के केंद्र हैं और हज़ारों वर्षों की हमारे धर्म की स्थापित मान्यताओं के साथ खिलवाड़ मत करिए।