October 4, 2022

भोपाल में सभी प्रकार की रैलियों पर रोक, धार्मिक स्थानों में पांच से ज्यादा लोग उपस्थित नहीं रहेंगे।

अयोध्या में गुरुवार को राम मंदिर के भूमिपूजन कार्यक्रम को लेकर राजधानी पुलिस भी हाई अलर्ट पर है। करीब 3200 पुलिसकर्मियों को सड़कों पर तैनात किया गया है। इसमें क्यूआरएफ, आरएएफ, एसटीएफ, एसएएफ और जिला पुलिस का बल मौजूद है। लगभग 120 स्थानों पर चेकिंग प्वाइंट बनाए गए हैं। इससे लोगों की आवाजाही पर नजर रखी जा रही है। पुलिस के आला अधिकारी खुद भी लगातार गश्त कर रहे हैं। भीड़भाड़ वाले इलाकों में ड्रोन से निगाह रखी जा रही है। पुलिसकर्मियों को लगातार पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए गए हैं।

120 चेकिंग प्वाइंट

शहर में 120 चेकिंग प्वाइंट बनाए गए हैं। इनमें से 10 आउटर पर हैं। वाहनों की लगातार चेकिंग की जा रही है। किसी भी संदिग्ध वाहन को बिना तलाशी लिए बिना जाने के निर्देश नहीं हैं। रोशनपुरा, करोंद, सिंधी कॉलोनी में गिरफ्तारी पार्टी मौजूद है।

रैलियों पर पूरी तरह से रोक

शहर में बुधवार को किसी भी प्रकार की रैली नहीं निकली जाएगी। रैलियों पर पूरी तरह से रोक लगाई जा चुकी है। धर्मिक स्थलों में पांच से ज्यादा लोग जमा नहीं हो सकते हैं। पुलिस ने रक्षा और सुरक्षा समितियों की बैठक भी कर ली है। रात दस बजे तक पुलिस लगातार गश्त करेगी। थाना प्रभारियों को अपने-अपने इलाके में गश्त पर रहने के निर्देश दिए गए हैं।

सोशल मीडिया पर निगरानी

पुलिस की निगरानी में व्हॉट्सएप जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म भी हैं। इसके जरिए अफवाह फैलाकर असामाजिक व शरारती तत्व शांति को भंग करने की कोशिश कर सकते हैं, इसलिए जिले की सायबर सेल के अधिकारियों को दो दिन पहले से ही सोशल मीडिया की निगरानी में सक्रिय कर दिया है।

करीब 3200 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। ये सुबह आठ से लेकर रात दस बजे तक जांच करेंगे। सोशल मीडिया पर भी निगरानी रखी जा रही है। रैलियों पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है। चेकिंग प्वाइंट पर भी पुलिस तैनात की गई है। – रजत सकलेजा, एएसपी, जोन-1