October 2, 2022

मशहूर शायर राहत इंदौरी का 70 वर्ष की उम्र में निधन

  • मध्य प्रदेश के इंदौर में 1 जनवरी 1950 को राहत इंदौरी का जन्म हुआ था।
  • मंगलवार को ही उन्होंने अपने कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी ट्वीट की थी।

मशहूर शायर राहत इंदौरी (70) का निधन हो गया है। उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद वे इंदौर के अरबिंदो अस्तपाल में भर्ती थे।

फेफड़ों में निमोनिया के चलते आईसीयू में रखा गया था

राहत इंदौरी के बेटे और युवा शायर सतलज राहत ने बताया था कि पिता चार महीने से सिर्फ नियमित जांच के लिए ही घर से बाहर निकलते थे। उन्हें चार-पांच दिन से बेचैनी हो रही थी। डॉक्टरों की सलाह पर फेफड़ों का एक्सरे कराया गया तो निमोनिया की पुष्टि हुई थी। इसके बाद सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिसमें वे संक्रमित पाए गए। राहत को दिल की बीमारी और डायबिटीज थी। उनके डॉक्टर रवि डोसी ने बताया था कि उन्हें दोनों फेफड़ों में निमोनिया था। सांस लेने में तकलीफ के चलते आईसीयू में रखा गया था।

कुमार विश्वास ने कहा था- गलत आदमी से भिड़ गया कोरोना

कुमार विश्वास ने राहत इंदौरी को कोरोना होने की खबर सुनकर ट्वीट किया था कि कोरोना अबकी बार गलत आदमी से भिड़ गया है। राहत इंदौरी ने खुद ट्वीट कर अपने कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी थी।

मुन्नाभाई एमबीबीएस और मर्डर जैसी फिल्मों में 22 गीत लिखे

राहत इंदौरी का जन्म 1 जनवरी 1950 को मध्य प्रदेश के इंदौर में हुआ था। उन्होंने बरकतुल्लाह यूनिवर्सिटी से उर्दू में एमए किया था। भोज यूनिवर्सिटी ने उन्हें उर्दू साहित्य में पीएचडी से नवाजा था। राहत ने फिल्मों में 22 गीत लिखे। इनमें मुन्ना भाई एमबीबीएस, मीनाक्षी, खुद्दार, नाराज, मर्डर, मिशन कश्मीर, करीब, बेगम जान, घातक, इश्क, जानम, सर, आशियां और मैं तेरा आशिक जैसी फिल्में शामिल हैं।