October 4, 2022

मोदीशाह, भाजपा, संघ और उनकी ‘ट्रोल सेना’ प्रश्न पूछने वालों को डराते-धमकाते हैं – दिग्विजय सिंह

  • मैं इसलिए राहुल गांधी का सम्मान करता हूं कि वे साहस के साथ प्रश्न पूछ रहे हैं।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि लोकतंत्र के लिए मजबूत विपक्ष का होना जरूरी है। विपक्ष ही सरकार पर नियंत्रण रखती है। ऐसे में वह निरंकुश नहीं हो पाती है। लेकिन जब सरकार मजबूत हो जाती है तो लोकतंत्र खतरे में आ जाता है।

दिग्विजय का ट्वीट

कांग्रेस ने लोकतंत्र बचाने आरटीआई दिया

आरटीआई के जरिए ही कई भ्रष्टाचार के केस सामने आए। आज इस कानून को भी समाप्त करने की मोदीजी की मंशा है। क्योंकि बुनियादी तौर पर वे लोकतंत्र विरोधी मानसिकता से ग्रस्त हैं। राहुल और कांग्रेस को सभी भाजपा विरोधी दलों को एक करने का पूरा प्रयास करना चाहिए। हर नागरिक को शासन तंत्र से प्रश्न पूछने का अधिकार ही लोकतंत्र की बुनियाद होता है। जिसे कांग्रेस ने सोनिया जी के नेतृत्व में आम नागरिक को “सूचना का अधिकार” शासकीय तंत्र के विरोध के बाद भी, कानून ला कर उसे शासन को कठघरे में खड़े करने का अधिकार दिया।

वह तो धमकाते हैं

मोदीशाह, भाजपा, संघ और उनकी “ट्रोल सेना” प्रश्न पूछने वालों को सोशल मीडिया पर झूठे, बिना किसी प्रमाण पोस्ट डाल कर उन्हें बदनाम कर उन्हें डराते धमकाते हैं। यही रणनीति हिटलर समेत हर तानाशाह अपनाता रहा है। मैं इसलिए राहुल गांधी का सम्मान करता हूं कि वे साहस के साथ प्रश्न पूछ रहे हैं।