October 4, 2022

मध्यप्रदेश उपुचनाव में इस बार कांग्रेस का पूरा जोर सोशल मीडिया कैंपेन पर

मध्‍य प्रदेश में 27 विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव से पहले कांग्रेस अब सोशल मीडिया को प्रचार का बड़ा हथियार बनाने की कवायद में जुट गई है। इसको लेकर कांग्रेस पार्टी के एक्सपर्ट ट्रेनिंग देने का काम कर रहे हैं। कांग्रेस मीडिया विभाग को धार देने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्‍ता पवन खेड़ा और कांग्रेस सोशल मीडिया सेल के अध्यक्ष रोहन गुप्ता ने आज विभाग के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। दिल्ली से आए नेताओं ने कांग्रेस मीडिया विभाग के पदाधिकारियों को उपचुनाव में सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर टिप्स दिए। उपचुनाव में शहरी इलाकों से लेकर ग्रामीण इलाकों तक सोशल मीडिया कैंपेन को लेकर रोहन गुप्ता और उनकी टीम ने पार्टी पदाधिकारियों को तकनीकी और छोटे-छोटे सेल बनाने की जानकारी दी।

पार्टी का पूरा जोर सोशल मीडिया कैंपेन पर

दरअसल, उपुचनाव में इस बार कांग्रेस पार्टी का पूरा जोर सोशल मीडिया कैंपेन पर है। कांग्रेस पार्टी प्रदेश सरकार की नीति रीति से से लेकर उपचुनाव के मुद्दों को प्रचार प्रचारित करने के लिए सोशल मीडिया को बड़ा हथियार बनाने की कोशिश में जुटी है। यही कारण है कि आप दिल्ली में पार्टी के नेता प्रदेश के नेताओं को ट्रेनिंग दे रहे हैं। दिल्ली में जिस तरीके से कांग्रेस पार्टी का सोशल मीडिया काम कर रहा है और जिस तरीके से पार्टी प्रवक्ता बीजेपी सरकार के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार करते हैं, उसी तर्ज पर प्रदेश में अब कांग्रेस मीडिया विभाग के पदाधिकारी भी काम करते हुए नजर आएंगे। कांग्रेस आईटी सेल के अध्यक्ष रोहन गुप्ता ने मीडिया विभाग के पदाधिकारियों को सोशल मीडिया पर गतिविधियां बढ़ाने और उसका दायरा बढ़ाने की सलाह दी है।

पार्टी ये काम भी करेगी

पार्टी अब न्यूज़ चैनलों पर होने वाली बहस में हिस्सा लेने वाले प्रवक्ताओं को भी ट्रेनिंग देने का काम करेगी और पार्टी यह तय करेगी कि किस बहस में किस विषय पर कौन से प्रवक्ता शामिल होंगे। इसको लेकर कांग्रेस पार्टी की एक टीम फैसला करेगी। कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख जीतू पटवारी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के आईडियोलॉजी को जनता तक पहुंचाने के लिए प्रवक्ता काम कर रहे हैं। पवन खेड़ा और रोहन गुप्ता इसी कारण से विभाग की बैठक में शामिल हुए हैं।