October 5, 2022

बरगी बांध के जल स्तर को नियंत्रित करने इसके 13 गेट औसतन 1.80 मीटर की ऊंचाई तक खोले गए

जबलपुर स्थित बरगी बांध के जल स्तर को नियंत्रित करने इसके 13 गेट औसतन 1.80 मीटर की ऊंचाई तक खोले जा रहे हैं और इनसे 1 लाख 21 हजार 660 क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। कैचमेंट एरिया में लगातार हो रही बारिश के कारण बरगी बांध का जलस्तर मंगलवार सुबह 421.30 मीटर तक पहुंच गया था। बांध का पूर्ण जलभराव स्तर 422.76 मीटर है। कार्यपालन यंत्री बरगी बांध अजय सूरे के अनुसार बांध में आवक को देखते हुए पानी छोड़ने की मात्रा को घटाया या बढ़ाया भी जा सकता है।

उक्त सम्बन्ध में जिला प्रशासन होशंगाबाद ने नर्मदा नदी से लगे ग्रामों के रहवासियों व नदी के अंदर तरबूज, सब्जियां आदि की खेती कार्य के लिए जाने वाले कृषकों को सतर्क रहने, नदी के तट पर प्रवेश व स्नान नहीं करने की अपील की है। कलेक्टर धनंजय सिंह ने समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार , जनपद सीईओ को नर्मदा नदी से लगे ग्रामीण इलाकों में मुनादी किए जाने व आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया है।

डिंडोरी जिले में भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर, कई मार्ग बंद

डिंडोरी जिले करंजिया विकास खंड के अंतर्गत कस्बा गोरखपुर सहित अंचल में देर रात मूसलाधार बारिश हुई। जिसकी वजह से नदी-नाले उफान पर आ गए और कस्बा के पास से बहने वाली सिवनी नदी के पुल के ऊपर से पानी बहने लगा। इससे जबलपुर-अमरकंटक मार्ग हुआ बंद हो गया। इसके आलावा सोमवार की शाम से सढ़वा-झनकी मार्ग और गोरखपुर-सैलवार मार्ग पर बाढ़ आने से यातायात बंद हो गया है। भारी बारिश से सोयाबीन की फसल प्रभावित हुई। डिंडोरी में तेज बारिश से खरमेर नदी उफान पर है। ग्राम किसलपुरी के पास पुल में पानी आने से डिंडोरी-मंडला मार्ग बंद हो गया। मुख्य मार्ग पर जगह-जगह पेड़ गिर गए हैं।

कटनी जिले में सुबह से बारिश

कटनी जिले में मंगलवार सुबह से हो रही बारिश, अच्छी बारिश से शहर के कई इलाकों में गलियों में पानी भर गया है। जानकारी के अनुसार इस बारिश में यहां मोहन लाल पिता गयादीन नामदेव निवासी बरनमहगवां बरही का घर गिर गया है। सुबह से तेज बारिश के कारण शहर कई स्थानों पर बिजली व्यवस्था भी प्रभावित हो गई है। बारिश से शहर के अंडर ब्रिज ओवर में पानी भर गया है. मिशन चौक सागर पुलिया में पानी भरा है। खिरहनी फाटक अंडर ब्रिज सहित घंटाघर तिलक राष्ट्रीय स्कूल के सामने जालपा मडिया तक रोड पर पानी भर गया है।