October 5, 2022

मध्यप्रदेश पुलिस में भर्ती इस साल भी संभव नहीं

  • तीन साल से अटकी प्रक्रिया, सिपाही के 4269 पदों पर होना है भर्ती।

मध्यप्रदेश पुलिस में सिपाही और सब इंस्पेक्टर के पदों के लिए भर्ती इस साल संभव नहीं है। भर्ती पर सीधा अधर कोरोना काल का है। सामान्य परिस्थितियों में भर्ती प्रक्रिया में आठ से दस माह का समय लगता है। पुलिस में भर्ती प्रक्रिया नए वित्त वर्ष में शुरू होने की उम्मीद है।

प्रदेश पुलिस में पिछले तीन साल से भर्ती नहीं हुई है। ऐसे में पुलिस में भर्ती की उम्मीद लेकर बैठे कई उम्मीदवार ओवरएज हो चुके हैं। इधर, पुलिस में रिक्त पदों की संख्या बढ़ती जा रही है। मध्यप्रदेश पुलिस में पिछले तीन साल से भर्ती नहीं हुई है। साथ ही पुलिसकर्मियों के सेवानिवृत्त होने से रिक्त पदों की संख्या भी बढ़ती जा रही है।

पुलिस में सिपाही के 4269 पदों पर भर्ती होना है। सिपाही की भर्ती कैसे होगी इस संबंध में पुलिस मुख्यालय दो महीने पहले नियमावली सामान्य प्रशासन विभाग को भेज चुका है। जिस पर अब तक फैसला नहीं हो सका है। जानकारों कहना है कि कोरोना संक्रमण के कारण प्रवेश परीक्षाएं नहीं हो रहीं हैं। हर स्तर पर कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के प्रयास किए जा रहे हैं।

पुलिस की भर्ती में पूरे राज्य में एक साथ लिखित परीक्षा होती है, ऐसे में लगभग 12 लाख उम्मीदवारों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ प्रवेश परीक्षा दिलाना संभव नहीं है।

नए वित्त वर्ष में बजट स्वीकृत होने के बाद ही होगी भर्ती

पुलिस में सिपाही की भर्ती बजट स्वीकृत होने के बाद होगी। इस वित्त वर्ष में बजट स्वीकृत होना मुश्किल है। ऐसे में नए वित्त वर्ष में 4269 पदों के लिए बजट स्वीकृत होने के बाद ही भर्ती प्रक्रिया को शुरू होगी। तब तक उम्मीदवारों को इंतजार करना होगा।

महामारी के इस दौर में परीक्षा कराना संभव नहीं

पुलिस की भर्ती में 10 से 12 लाख उम्मीदवार शामिल होते हैं। देश में कोरोना महामारी फैली हुई है। ऐसे में व्यवहारिक रूप से परीक्षा कराना संभव नहीं है।