October 4, 2022

मध्य प्रदेश में 27 सीटों पर उपचुनाव अक्टूबर में हो सकते हैं

मध्य प्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव की सुगबुगाहट तेज हो गई है। चुनाव आयोग ने भी तैयारियों लगभग पूरी कर ली है। आयोग ने बूथों की संख्या को बढ़ाया है। जल्द ही कोरोना की गाइडलाइन भी जारी हो सकती है। आयोग की तैयारी को देख कर लग रहा है कि अक्टूबर में सभी सीटों पर उपचुनाव हो सकते हैं।

चुनाव आयोग लंबे समय से उपचुनाव को लेकर तैयारियां कर रहा था। कोरोना काल के चलते तमाम गाइडलाइन का पालन कराने के लिए और मौजूदा स्थिति को देखते हुए बूथों की संख्या बढ़ाई जा रही है। अगले हफ्ते भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से कोविड प्रोटोकॉल से जुड़ी गाइडलाइन भेज दी जाएगी। इधर, चुनाव आयोग की तैयारियों को देखते हुए बीजेपी कांग्रेस और दूसरी पार्टियों ने चुनावी तैयारियां शुरू कर दी है।

वर्चुअल बैठकों और मीटिंग के साथ रैलियां की जा रही है। बसपा ने भी अपने तमाम उम्मीदवारों को 27 सीटों पर उतारने का फैसला लिया है। उपचुनाव के मद्देनजर बीजेपी और कांग्रेस में बयानबाजी का दौर भी जारी है। उम्मीदवारों का चयन भी लगभग तय हो गया है। सिर्फ सीटों पर प्रत्याशियों के नाम का ऐलान करना बाकी है।

27 सीटों पर 2225 बूथ बढ़ाए

चुनाव आयोग ने सभी 18 कलेक्टरों की सहमति लेने के बाद यह फैसला लिया था कि जिन विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है, वहां पर वोटों की संख्या बढ़ाई जाएगी। ऐसा करने से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा नहीं रहेगा और गाइडलाइन का पालन भी हो सकेगा। कलेक्टरों की सहमति और तमाम स्तर की बैठक के तहत 27 सीटों पर 2225 बूथ बढ़ाकर चुनाव कराए जा सकते हैं।

अधिकारियों की ट्रेनिंग शुरू

चुनाव आयोग की तैयारियां बड़ी तेजी से चल रही है। बूथ के बाद किस तरीके की व्यवस्था चुनाव के दौरान रहने वाली है। इसको लेकर भी ट्रेनिंग सेशन शुरू कर दिए गए हैं। आयोग रिटर्निंग अधिकारी और एआरओ की ट्रेनिंग दे रहा है। चुनाव की तैयारियों के चलते  यह अनुमान लगाया जा रहा है कि अक्टूबर के दूसरे पखवाड़े में चुनाव हो सकते हैं। हालांकि, इन तैयारियों पर भारत निर्वाचन आयोग जल्द फैसला लेगा।