October 4, 2022

भोपाल में पिछले 12 घंटों में 7 इंच बारिश, सीहोर में नर्मदा का जलस्तर बढ़कर हुआ 956.62 फीट

  • शनिवार काे भाेपाल, उज्जैन, सागर, जबलपुर, ग्वालियर संभागाें में भारी बारिश के आसार हैं।
  • इंदौर में शुक्रवार को 4 घंटे में 3 इंच बारिश हुई, यह इस सीजन में सबसे ज्यादा है।

राजधानी में गुरुवार से शुरू हुई बारिश शनिवार सुबह तक जारी है। यहां बीते 12 घंटों में 7 इंच बरसात हुई है। इससे पहले गुरुवार शाम से शुक्रवार शाम तक 24 घंटे में 4.75 इंच पानी बरस चुका था। वहीं प्रदेश के अन्य शहरों में भी झमाझम बारिश हुई। जबलपुर में बरगी बांध के 13 गेट खुलने के कारण सीहोर में नर्मदा का जलस्तर बढ़कर 956.62 फीट हो गया है। हालांकि, अभी यह खतरे के निशान से 8 फीट नीचे है। प्रशासन ने तटीय 14 गांवों में अलर्ट घोषित कर दिया है। पिछले 24 घंटे में रेहटी में 110 और सीहोर में 75 सेमी बारिश हुई है।

भोपाल में 2 दिन ऑरेंज अलर्ट जारी

भोपाल में 2 दिन ऑरेंज अलर्ट है। मौसम वैज्ञानिक ममता यादव ने बताया कि शनिवार काे भोपाल, उज्जैन, सागर, जबलपुर, ग्वालियर संभागों में भारी बारिश के आसार हैं। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि यह सिस्टम एक-दाे दिन में भोपाल के ऊपर से गुजर जा सकता है। ऐसा हुआ तो भारी बारिश का दौर जारी रह सकता है।

इतनी तेज बारिश की वजह

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना लाे प्रेशर एरिया स्ट्राॅन्ग हाेकर वेल मार्क लाे में बदल गया था। शुक्रवार काे यह सागर-दमाेह के पास ही था। यह सिस्टम जहां रहता है, उसके दक्षिण-पश्चिमी हिस्सों में ज्यादा बारिश होती है। इस सिस्टम के शनिवार को पश्चिम में आगे बढ़ने के आसार हैं।

रायसेन: नदी में वाहन और उसका ड्राइवर बहा

रायसेन में बारना पुल पर पानी आने से जयपुर- जबलपुर हाईवे और कहूला पुल डूबने से भोपाल-सागर मार्ग बंद हो गया। तेंदोनी नदी में उफान से सिलवानी-उदयपुरा मार्ग बंद है। परासिया नदी में एक मैजिक वाहन और उसका ड्राइवर बह गया। ड्राइवर की तलाश की जा रही है।