October 5, 2022

नागपुर में ‘संघम शरणम गच्छामि’ की प्रार्थना करते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया – दिग्विजय सिंह

  • एमपी के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के पूर्व नेता व बीजेपी कोटे से राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के नागपुर दौरे पर निशाना साधा है।

मध्य प्रदेश में उपचुनाव से पहले नेताओं में जुबानी जंग जारी है। एमपी के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने जबलपुर में पार्टी के पूर्व नेता व बीजेपी कोटे से राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधा है। दिग्विजय सिंह ने सिंधिया के नागपुर दौरे को लेकर बयान दिया है। उन्होंने ​कहा कि नागपुर हर कोई जाता है। बाबा साहेब अम्बेडकर के स्मारक के लिए जाता है। हम बाबा साहेब अम्बेडकर के श्रद्धालु हैं, वहीं जाते हैं, लेकिन जो बाबा साहेब अम्बेडकर का विरोध करते हैं, वो संघ कार्यालय जाते हैं।

दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘हम लोग नागपुर जाकर प्रार्थना करते हैं बुद्धम शरणम गच्छामि। जबकि सिंधिया प्रार्थना करते है संघम शर्णम गच्छामि’. बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के पीछे दिग्विजय सिंह से आपसी विवाद भी बड़ी वजह मानी जा रही है। बताया जा रहा है कि कमलनाथ सरकार में सिंधिया को तवज्जो नहीं मिलने का बड़ा कारण सरकार में दिग्विजय सिंह का दखल था। इससे नाराज होकर ही सिंधिया ने पार्टी छोड़ी. सिंधिया के पार्टी छोड़ने के बाद से ही दिग्विजय सिंह उनपर जुबानी हमला करते आ रहे हैं।

सीडब्ल्यूसी के विवाद पर कही ये बात

सीडब्ल्यूसी के विवाद पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि ऐसे मामले में विवाद समिति के अंदर ही ख़त्म होना था। दिग्विजय सिंह ने चिट्ठी पर आपत्ति जताई। साथ ही बैठक के अंतरकलह के बाहर आने को लेकर उन्होंने मीडिया को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि वर्चुअल बैठक की गोपनीयता का मीडिया ने उल्लंघन किया। गांधी परिवार से बाहर के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने पर तिलमिलाए दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिन्हें गांधी परिवार पर संशय है, वो कॉग्रेस ज्वाइन करे और चुनाव लड़े।