October 5, 2022

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा का बयान सुशांत सिंह की मौत का मामला एक पॉलिटिकल ड्रामा बन गया है

  • सुशांत सिंह के मुद्दे पर पॉलिटिकल ड्रामा बंद होना चाहिए, सीबीआई मामले की जांच कर रही है।
  • दो दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा था- सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या नहीं कर सकता।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में लगातार राजनीतिक बयानबाजी सामने आ रही है। अब इसमें नया मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री रहे पीसी शर्मा का जुड़ गया है। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत हट्टा-कट्टा था, उसकी हत्या भला कौन कर सकता है। ये मामला आत्महत्या का है और जब तक इसकी जांच चल रही है। इसके बारे में किसी को भी कोई बयान नहीं देना चाहिए। पीसी शर्मा का बयान उन्हीं की पार्टी के बड़े नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बयान से उलट है, जिसमें उन्होंने कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या नहीं कर सकता है।

पीसी शर्मा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है और इसके नतीजे भी जल्दी ही सामने आ जाएंगे। उन्होंने रिया चक्रवर्ती का पक्ष लेते हुए कहा कि उसने भी सुशांत सिंह का साथ दिया था और सीबीआई जांच की मांग की थी।

पीसी शर्मा ने कहा कि सुशांत सिंह की मौत का मामला एक पॉलिटिकल ड्रामा बन गया है और भाजपा बिहार चुनाव में इस मुद्दे का लाभ लेना चाहती है। अगर सीबीआई जांच हो रही है तो फिर उसमें दूसरे लोगों को शांत हो जाना चाहिए। अगर सरकार को इस मामले में और ज्यादा लग रहा है तो वह रॉ से जांच करवा लें। सब कुछ सामने आ जाएगा।

पीसी शर्मा का बयान दिग्विजय सिंह के उस बयान के ठीक उलट है। जिसमें 2 दिन पहले उन्होंने जबलपुर में कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत हुए कलाकार थे और वह आत्महत्या नहीं कर सकते। उन्होंने कहा था कि सुशांत के व्यवहार और लोकप्रियता से नहीं लगता है उन्होंने सुसाइड किया होगा। अब सीबीआई जांच कर रही है तो मामला सच सामने आ जाएगा।