October 2, 2022

शिवराज सरकार का दोहरा रवैया, जनआक्रोश रैली के बाद कांग्रेस नेताओं पर प्रकरण दर्ज

मध्यप्रदेश के दतिया में शुक्रवार को कांग्रेस द्वारा निकाली गई जनआक्रोश रैली के बाद कांग्रेस नेताओं पर प्रकरण दर्ज किया गया है। कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं के खिलाफ कोतवाली में धारा 144 और कोविड 19 के नियमों का उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज की गई है। 

दतिया में शुक्रवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं पूर्व मंत्री डॉ. गोविन्द सिंह, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल, पूर्व मंत्री राजेन्द्र भारती आदि की उपस्थिती में जन आक्रोश रैली का आयोजन किया गया था। इसमें हजारों की तादाद में लोग उपस्थित हुए थे। आयोजन के बाद दतिया के स्थानीय भाजपा नेताओं ने शिकायत की थी।

शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने पूर्व मंत्री महेंद्र बौद्ध, पूर्व विधायक राजेन्द्र भारती, सेवढा विधायक घनश्याम सिंह और कांग्रेस जिलाअध्यक्ष सहित दर्जनों कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर धारा 144 के उल्लंघन की एफआईआर दर्ज की गयी।

कांग्रेस नेता व पूर्व लोकसभा प्रत्याशी देवाशीष जरारिया का कहना है कि वे एफआईआर दर्ज करने की निंदा करते हैं। यह सरकार का तानाशाही रवैया है। भाजपा सरकार लोकतंत्र की आवाज दबाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने ग्वालियर में हुए भाजपा के सदस्यता अभियान पर सवाल उठाते हुये कहा कि क्या अब भाजपा और कांग्रेस के लिये अलग अलग नियम कानून चलेंगे।