October 2, 2022

पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल का बयान कहा – भाजपा ने संविधान को खतरे में डाल दिया है

कांग्रेस नेताओं पर दर्ज किए मामलों, बिगड़ती कानून व्यवस्था, अवैध रेत उत्खनन, स्वास्थ्य सेवाओं, बिजली समस्या एवं प्रशासनिक भ्रष्टाचार के खिलाफ शुक्रवार को कांग्रेस ने जनाक्रोश रैली निकाली।

रैली को प्रदेश के पूर्व मंत्रीगण सज्जन सिंह वर्मा, कमलेश्वर पटेल एवं डॉ गोविंद सिंह ने संबोधित किया। सभा के पश्चात कांग्रेस नेताओं ने शहर की सडक़ों पर पैदल मार्च कर कलेक्ट्रेट का घेराव कर राज्यपाल के नाम अपर कलेक्टर विवेक रघुवंशी तथा पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौड़ को ज्ञापन सौंपा। अध्यक्षता कांग्रेस जिलाध्यक्ष नाहर सिंह यादव ने की।

जनाक्रोश रैली का नेतृत्व पूर्वगृह मंत्री महेंद्र बौद्ध, विधायक घनश्याम सिंह एवं पूर्व विधायक राजेंद्र भारती ने किया।

सिंधिया सबसे बड़े भूमाफिया : वर्मा

सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने आरोप लगाया कि सिंधिया सबसे बड़े भूमाफिया हैं। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार द्वारा चलाईं गईं योजनाएं और माफिया पर कार्यवाही भाजपा को रास नहीं आई।

पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि भाजपा ने संविधान को खतरे में डाल दिया है। इसी बजह से हमें कोरोना संक्रमण काल के दौरान आंदोलन करने को विवश होना पड़ रहा है। ज्ञापन देते समय पूर्व गृहमंत्री महेंद्र बौद्ध ने पुलिस अधीक्षक से कहा कि आप भाजपा नेताओं को क्यों नहीं पकड़ते। कई भाजपा नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद भी उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा रहा।

हैलीकॉप्टर न उतरने का आरोप लगाया

जनाक्रोश रैली के दौरान किला चौक पर सभा का आयोजन किया गया। सभा में सभी पूर्व मंत्रियों को करीब पौने बारह बजे पहुंचना था, लेकिन वह करीब साढ़े तीन बजे पहुंचे। इस दौरान डॉ गोविंद सिंह ने कहा कि शासन – प्रशासन द्वारा परमीशन देर से दिए जाने की बजह से वह लेट हुए हैं।