October 2, 2022

मध्य प्रदेश में राजनीतिक दलों ने शुरू की उपचुनाव की तैयारियाँ , काँग्रेस बना रही जीत की रणनीति

मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं। कमलनाथ ने प्रदेश की 27 सीटों के लिए जिम्मेदारियां तय की है। विधानसभा प्रभारी, सह प्रभारी, समन्वयक, मंडलम अध्यक्ष, सेक्टर प्रभारी, पन्ना प्रभारियों की जिम्मेदारी तय की गई है। इसके तहत सभी को चुनाव की तैयारियां शुरू करने कहा गया है। साथ ही वोटर्स को अपने पक्ष में करने को लेकर भी नीति बनाई गई है। उपचुनावों में जीत के लिए कांग्रेस हर संभव प्रयास कर रही है।

15 साल बाद प्रदेश की सत्ता में आई कांग्रेस अपने ही विधायकों के बागी तेवर के कारण फिर से विपक्ष में चली गई है। इसके चलते ही प्रदेश में उपचुनाव की नौबत आई है। अब फिर से प्रदेश की सत्ता पाने कांग्रेस पूरी ताकत झोंकने की तैयारी में है। इसके तहत ही हर स्तर पर सबकी जिम्मेदारी तय कर रही है। पीसीसी चीफ कमलनाथ ने एक बैठक कर सबकी जिम्मेदारी तय की है।

विधानसभा प्रभारी तय करेंगे मीटिंग

चुनाव की तैयारियों को लेकर विधानसभा प्रभारी मंडलम की लगातार मीटिंग करेंगे। इसके बाद पीसीसी चीफ कमलनाथ को उनको फीडबैक देना होगा। सह प्रभारी को भी मॉनिटरिंग का जिम्मा दिया गया है। सेक्टर अध्यक्ष को बूथ के पन्ना प्रभारियों से संपर्क रखना होगा। इसके अलावा मंडलम अध्यक्ष सेक्टर अध्यक्षों बूथ के पन्ना प्रभारियों से संपर्क में रहेंगे। सेक्टर प्रभारी को पन्ना प्रभारियों की नियुक्ति की जिम्मेदारी दी गई है। जातिगत समीकरण के आधार पर पन्ना प्रभारी की नियुक्ति होगी। पन्ना प्रभारी मतदाता सूची पर नजर रखेंगे।