October 4, 2022

कमलनाथ की मौजूदगी में आप नेताओं ने कांग्रेस की सदस्यता ली

  • मध्य प्रदेश में उपचुनाव से पहले दल बदलने का सिलसिला जारी है।
  • इस बार आम आदमी पार्टी के नेताओं ने दल बदल किया है।

मध्य प्रदेश में उपचुनाव से पहले दल बदलने का सिलसिला जारी है। नेताओं के अलावा पार्टी कार्यकर्ता भी एक दल से दूसरे दल में दाखिल हो रहे हैं। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार की आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता सोमवार को मध्य प्रदेश में कांग्रेस में शामिल हो गए।

ग्वालियर चंबल संभाग के आप पार्टी के कार्यकर्ता और पदाधिकारी पीसीसी चीफ कमलनाथ के मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हुए। उपचुनाव से पहले कांग्रेस इसे मजबूती के तौर पर देख रही है। कुछ दिन पहले ग्वालियर में कांग्रेस के कई कार्यकर्ता बीजेपी में शामिल हुए थे।

आम आदमी पार्टी मध्य प्रदेश में खुद के पांव मजबूत करने की कोशिश कर रही है। इस बीच पार्टी के प्रदेश संगठन सचिव और संस्थापक सदस्य हिमांशु कुलश्रेष्ठ के साथ युवा इकाई के प्रदेश सचिव जयवीर सिंह सोमवंशी, चंबल संभाग के उपाध्यक्ष सत्येंद्र सिंह तोमर, सोमेश शर्मा, संभागीय सचिव शुभम गुप्ता, भिंड जिला युवा इकाई के अध्यक्ष विकास शर्मा, ग्वालियर महिला विंग के जिला अध्यक्ष सुशीला आर्य समेत बड़ी संख्या में आप पार्टी के कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों ने कांग्रेस की सदस्यता ली। भोपाल आए आप पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ग्वालियर चंबल संभाग में कांग्रेस के पक्ष में प्रचार करने का दावा किया है।

लोकतंत्र विरोधी ताकतों का मुकाबला

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस पार्टी में शामिल आप कार्यकर्ताओं से लोकतंत्र विरोधी ताकतों का मुकाबला करने के लिए एक साथ खड़े होने की अपील की है। इससे पहले ग्वालियर चंबल संभाग में सिंधिया और शिवराज की मौजूदगी में हजारों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी की सदस्यता ली थी। उससे पहले ग्वालियर चंबल संभाग के बहुजन समाज पार्टी के नेता पूर्व जनप्रतिनिधियों ने भी कांग्रेस की सदस्यता ली थी। कुल मिलाकर प्रदेश में 27 विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव से पहले नेताओं और कार्यकर्ताओं का अपनी पार्टी से मोह भंग हो रहा है और यही कारण है की बड़ी संख्या में पार्टी नेता और कार्यकर्ता एक दल से दूसरे दल में छलांग लगा रहे हैं।