October 4, 2022

बेरोजगार युवक-युवतियों ने केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर की कार को घेरा, युवतियां कार के आगे लेटीं

  • इंतजार – शिक्षक पद की परीक्षा पास में युवक-युवतियों को रिजल्ट घोषित होने के एक साल बाद भी नियुक्ति न मिलने पर जताई नाराजगी।

शिक्षक वर्ग-1 व 2 की परीक्षा पास कर चुके बेरोजगार युवक-युवतियों ने रविवार को केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर की कार को घेर लिया। केंद्रीय मंत्री कुछ समझ पाते कि इससे पहले बेरोजगार युवतियां उनकी कार के आगे लेट गईं। यह देख मंत्री के काफिले के साथ चल रहे पुलिसकर्मियों ने इन युवतियों को हटाने के लिए झूमाझटकी की। इसके बाद भी युवतियां वहां से हटी नहीं।

हालांकि बाद में मंत्री ने विरोध प्रदर्शन कर रहे प्रतिनिधिमंडल की बात सुनी। मालूम हो कि इससे पहले बेरोजगारों ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा और पूर्व विधायक रघुराज कंसाना से अपनी मांग रखी थी लेकिन जब उन्होंने इस पर गौर नहीं किया तो बेरोजगारों ने केंद्रीय मंत्री के सामने विरोध प्रदर्शन किया।

केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर रविवार की दोपहर 11.45 बजे सर्किट हाउस से जीवाजीगंज के लिए रवाना हुए तो गेट पर पहुंचने से पहले ही सड़क किनारे खड़े युवक-युवतियों के बीच से 7 से 8 युवतियां मंत्री की कार के आगे बैठ गईं। यह देखते ही मंत्री की सुरक्षा में चल रहे पुलिस अफसर मौके पर जा पहुंचे और उन्होंने युवक-युवतियों को मंत्री की कार के सामने से हटाने का प्रयास किया।

पुलिस को सक्रिय होते देख युवतियां विफर गईं और बोलीं जब तक हमारी बात नहीं सुनी जाएगी तब तक मंत्री को आगे नहीं बढ़ने दिया जाएगा। इस दौरान मौके पर पांच से सात मिनट तक पुलिस की युवतियाें से झूमा-झटकी हुई तो अन्य युवतियां सड़क पर समूह बनाकर बैठ गईं। उधर दूसरी ओर ज्ञापन लेकर युवक, जिंदाबाद-मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। मंत्री तोमर को जब यह पता लगा कि युवक-युवतियां का डेलीगेशन उन्हें ज्ञापन देना चाहता हैं तो मंत्री ने युवक-युवतियों को कार के गेट पर बुला लिया।

फरवरी 2019 में रिजल्ट, नियुक्ति कब मिलेगी

व्यापमं द्वारा फरवरी 2019 में ली गई शिक्षक वर्ग-1 व 2 की परीक्षा पास कर चुके युवक-युवतियों ने केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से कहा कि 28 फरवरी 2019 को परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद से अब शिक्षा विभाग ने उन्हें शिक्षक पद पर नियुक्ति नहीं दी है। शिक्षक वर्ग 1 के 19200 पद व शिक्षक वर्ग 2 के 11000 पदों के लिए व्यापम ने 2018 में विज्ञप्ति प्रकाशित कराई थी। परीक्षा पास कर चुके युवक-युवतियों में से 50 फीसदी के योग्यता संबंधी प्रमाण-पत्रों का सत्यापन 1,2 व 3 जुलाई को हो चुका है।

सत्यापन का काम पूरा हाेने से पहले ही सरकार ने उस पर रोक लगा दी। इसलिए परीक्षा उत्तीर्ण कर चुके सभी आवेदकों के दस्तावेजों का सत्यापन पूरा कराया जाए। साथ ही 2 साल से नौकरी की प्रतीक्षा कर रहे आवेदकों को स्कूलों में नियुक्ति प्रदान की जाए। मंत्री तोमर ने आश्वासन दिया कि इस संबंध में वह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से चर्चा करेंगे। चर्चा करने वाले आवेदकों में रश्मि गर्ग, सरला तोमर, मेघा शर्मा, रामसेवक सिरोठिया, अतुल कुमार आर्य, विवेक सिंह राजपूत, लक्की दंडौतिया, परिमाल सेमिल व कमल सिंह कुशवाह आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।