October 4, 2022

केंद्र सरकार ने पॉपुलर मोबाइल गेमिंग ऐप पबजी समेत 119 ऐप पर लगाया बैन

केंद्र सरकार ने बुधवार को बड़ा फैसला लिया। देशभर में पॉपुलर मोबाइल गेमिंग ऐप पबजी पर बैन लगा दिया गया है। सरकार ने पबजी के अलावा 118 मोबाइल ऐप को सरकार ने बैन किया है। सरकार ने कहा कि इन मोबाइल ऐप से देश की सुरक्षा और संप्रभुता को खतरा है। भारत में पबजी के एक्टिव यूजर्स की संख्या करीब 3.3 करोड़ है। इस गेम को 5 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया है।

गौरतलब है कि हाल के घटनाक्रम के बारे में सेना ने सोमवार को बताया था कि भारतीय जवानों ने पैंगोंग सो क्षेत्र में 29 और 30 अगस्त की दरम्यानी रात को यथास्थिति बदलने के चीन की पीएलए के ‘‘उकसावे’’ वाले सैन्य अभियान को विफल कर दिया। सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने एक बयान में कहा, ‘‘भारतीय सैनिकों ने पैंगोंग सो (झील) के दक्षिणी किनारे पर इस पीएलए की गतिविधि को पहले ही विफल कर दिया और जमीन पर तथ्यों को एकतरफा बदलने के चीनी इरादों को विफल करने के लिए उपाय भी किए।’’

बता दें सरकार ने इस संबंध में जुलाई में चीनी कंपनियों को ऐप पर लगी पाबंदी का कड़ाई से पालन करने के निर्देश भी दिये थे। सरकार ने चीनी कंपनियों से कहा था कि वह आदेश का सख्ती से पालन करें, ऐसा न होने की स्थिति पर सख्त कार्रवाई की भी चेतावनी दी थी।

पहले बैन किए जा चुके हैं 106 ऐप्स

इससे पहले केंद्र अब तक 106 चीनी ऐप्स पर बैन लग चुका है। एक महीना पहले 47 ऐप्स पर बैन लगाया गया था। इससे पहले सरकार ने टिक टॉक, यूसी ब्राउजर, हेलो और शेयर इट जैसे 59 ऐप्स को बैन किया था। सरकार ने कहा कि इन चाइनीज ऐप्स के सर्वर भारत से बाहर मौजूद हैं। इनके जरिए यूजर्स का डेटा चुराया जा रहा था। इनसे देश की सुरक्षा और एकता को भी खतरा था। इसी वजह से इन्हें बैन करने का फैसला लिया गया।