October 8, 2022

इंदौर मंडी चार दिन तक रहेगी बंद, चोइथराम मंडी के सभी व्यापारी भी समर्थन में दुकानें बंद रखेंगे

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में मंडी के नए अधिनियम के विरोध में शहर की सभी मंडियों के कर्मचारी गुरुवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। चोइथराम मंडी के सभी व्यापारी भी उनके समर्थन में शनिवार तक अपनी दुकानें बंद रखेंगे। अब मंडी चार दिन तक बंद रहेगी, सोमवार को खुलेगी।  

यह जानकारी मिलते ही बुधवार को सुबह चोइथराम मंडी में भारी भीड़ पहुंच गई। सड़क पर जाम की स्थिति बनी रही, मंडी के अंदर भी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ी। भीड़ को अंदर आने से मंडी के गार्ड व अन्य कर्मचारियों ने भी नहीं रोका। जबकि पूर्व में मंडी में एक आलू व्यापारी कोरोना पॉजिटिव संक्रमित हो चुका है।सुदामा नगर निवासी अभय पांडे से जब कोरोना संक्रमण के बावजूद इतनी भीड़ में सब्जी लेने पहुंचने के संबंध में पूछा तो उन्होंने बताया कि चार दिन तक मंडी बंद है। कॉलोनी में सब्जी बेचने वाले दो से तीन गुना ज्यादा दाम में सब्जी देंगे। ऐसे में सप्ताहभर की सब्जी लेने आए हैं।

आलू प्याज मंडी हम्माल यूनियन के अध्यक्ष अशोक कदम ने बताया कि मंडी प्रशासन द्वारा गाइड लाइन को लेकर लापरवाही बरत रहा है। मंडी में न तो एंट्री के समय थर्मल गन से तापमान नाेट किया जा रहा है और न ही मास्क व सैनिटाजर का उपयोग हो रहा है। हमें अपनी सुरक्षा खुद ही करना पड़ रही है। श्री इंदौर हरी सब्जी, आलू, प्याज, फल व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रकाश परीडवाल का कहना है कि आगामी तीन दिन तक मंडी में सभी सेक्टर में व्यापार बंद रहेगा। सभी व्यापारियों ने हड़ताल के समर्थन में व्यापार बंद करने का निर्णय लिया है।