October 4, 2022

भिंड में बेरोजगार युवाओं के प्रदर्शन में हंगामा, चुप करवाने आए लोगों में से किसी ने चलाई गोली

प्रदेश में बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ भिंड में बेरोजगार युवाओं ने प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार के खिलाफ रोजगार दो आंदोलन किया। कांग्रेस नेता देवाशीष जरारिया के नेतृत्व में हुए इस प्रदर्शन में हंगामा हो गया। कांग्रेस नेता देवाशीष जरारिया ने आरोप लगाया है कि बेरोजगारी के विरुद्ध युवा जनांदोलन से डरे हुए बीजेपी के लोगो ने धरने पर हमला किया और गोलियां चलाई। हम धरने पर डटे रहे और समय पूरा करने के बाद  ही उठे। उसपूरे मामले को लेकर पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार आयोजन में बड़ी संख्या में बेरोज़गार युवा जुटे थे। वे रोजगार दो आंदोलन में सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। यह प्रदर्शन कुछ लोगों को रास नहीं आया। उन्होंने प्रदर्शन स्थल पर आ कर हंगामा कर दिया। दोनों पक्षों के बीच देर तक विवाद होता रहा। इस दौरान पुलिस अधिकारी भी मूक दर्शक बने रहे। विवाद इतना बढ़ गया कि बेरोज़गार युवाओं को चुप करवाने आए लोगों में से किसी ने गोली चला दी। इस हवाई फायर से इलाके में दहशत फैल गई। गोली चलाने के बाद हंगामा कर रहे लोग फरार हो गए।

देवाशीष जरारिया ने कहा है कि हंगामे के बाद भी प्रदर्शन और धरना पूरा किया गया। बाद में बेरोजगार युवाओं ने एसपी ऑफिस का घेराव करते हुये नारेबाजी की और मामला दर्ज करने तथा आरोपियों को गिरफ्तारी करने की मांग की।

इससे पहले देवाशीष जरारिया ने कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों और प्रदेश की शिवराज सरकार की गलत नियत के कारण देश व मध्यप्रदेश के युवा अपने भविष्य को अंधकारमय देख रहे हैं। केंद्र की मोदी सरकार और मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने नौकरी देने के नाम पर युवाओं को ठगा है। जहां रोजगार देने के लिए न ही दोनों सरकारें प्रयासरत हैं और न ही उन्हें प्रदेश के युवाओं की कोई चिंता है। साथ ही उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री से रोजगार मांगों तो वे पकौडे तलने की सलाह देते हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिर्फ विधायकों की खरीदफरोख्त में लगे रहते हैं। मध्यप्रदेश के युवा नौकरी न मिल पाने से हताश हैं।