March 5, 2024

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा – प्रदेश में अतिवर्षा व बाढ़ से फसल खराब होने से किसान भाई मजबूर होकर आत्महत्या कर रहे हैं

  • पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार का तंज, बोले- किसान आत्महत्या कर रहे हैं और सीएम का बाढ़ पर्यटन जारी है।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अतिवर्षा व बाढ़ से खराब हुई फसलों को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि फसल बर्बाद होने के कारण एक तरफ जहां किसान आत्महत्या कर रहे हैं वहीं, दूसरी तरफ मुख्यमंत्री शिवराज का बाढ़ पर्यटन जारी है। उन्होंने कहा कि अब तक न तो कोई मुआवजा दिया, न ही कोई राहत दी, सिर्फ झूठी घोषणाओं से वे अन्नदाताओं को गुमराह करने में लगे है। रविवार को ट्वीट कर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अतिवर्षा व बाढ़ से फसल खराब होने से किसान भाई मजबूर होकर आत्महत्या कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सीहोर, निवाड़ी, विदिशा के बाद अब छिन्दवाड़ा में भी एक किसान ने फसल खराब होने पर, मुआवज़े के अभाव में आत्महत्या कर ली है। सरकार की तरफ से फसल खराब होने पर अभी तक कोई मुआवज़ा प्रदान नहीं किया गया, न ही कोई राहत दी गई। नाथ ने आरोप लगाया कि सीहोर के मृतक किसान को तो पूरी सरकार मानसिक रोगी बताने में लगी रही। अब इन अन्य मृत किसानों की मौत को लेकर सरकार क्या कहेगी। उन्होंने कहा कि सरकार आखिर कब सच्चाई स्वीकारेगी।

दुर्भावना से कार्य कर रही सरकार

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने एक अन्य ट्वीट में आरोप लगाया कि शिवराज सरकार उप चुनावों को देखते हुए निरंतर राजनैतिक दुर्भावना से प्रेरित होकर काम कर रही है। कही कांग्रेस कार्यकर्ताओं का दमन किया जा रहा है, तो कहीं कहीं झूठे प्रकरण दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार प्रताड़ना का कार्य निरंतर कर रही है। नाथ ने कहा कि अब सांची उप चुनाव में सम्भावित हार को देखते हुए बौखलाहट में कांग्रेस नेत्री के पति को मुख्य अभियंता पद से हटा दिया गया है।

About Author