December 7, 2022

मुख्यमंत्री शिवराज ने नाकारा इमरती देवी का प्लान कहा – आंगनवाड़ी केंद्रों में दूध दिया जाएगा, अंडा नहीं

  • मंत्री इमरती देवी ने कहा था कोई भी विरोध करे अंडा दिया जाएगा, सीएम शिवराज चौहान ने कहा पीएम के जन्मदिन पर दूध देंगे।

कुपोषण मिटाने के लिए आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों को अंडा देने के महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी के प्लान को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नकार दिया है। कुपोषण दूर करने के लिए आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों को अंडा नहीं दूध बांटा जाएगा। बीजेपी कार्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा है कि 17 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन के मौके पर आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों को दूध पिलाया जाएगा, अंडा नहीं खिलाएंगे।

गौरतलब है कि कांग्रेस में रहते हुए भी इमरती देवी आंगनवाड़ियों में बच्चों को अंडा दिए जाने के पक्ष में थीं। बीजेपी सरकार में भी उनका यही निर्णय है। जबकि बीजेपी इसका विरोध करती रही है। वहीं पिछले दिनों एक कार्यक्रम में ज्योतिरादित्य सिंधिया से पूछा गया तो उन्होंने पल्ला झाड़ते हुए कहा कि यह विषय सरकार और उनकी कैबिनेट का है। 

बच्चों को अंडा खिलाने के फैसले के विरोध में जैन समाज भी है। बीजेपी के कई नेता और जैन समाज के संत आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों को अंडा खिलाने का विरोध कर चुके हैं। फिर भी मंत्री इमरती देवी बार-बार यह कह रही हैं कि वह अपने इस फैसले पर कायम हैं। उनका कहना है कि वो अपनी इस योजना को लागू करके ही रहेंगी। मंत्री का कहना है कि कुपोषण खत्म करने के लिए जिस चीज की जरूरत होगी वह बच्चों को खिलाया जाएगा जाएगा। जो बच्चे अंडा नहीं खाएंगें उन्हें फल परोसा जाएगा।   

मंत्री इमरती देवी तो यहां तक कह चुकी हैं कि अगर कोई उनके इस फैसले का विरोध करता है तो उन्हे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। उनका कहना है कि ‘महिला बाल विकास विभाग की मंत्री मैं हूं और मैंने निर्णय कर लिया है।‘ इमरती देवी ने कहा था कि अगर जरूरत पड़ी तो वे इस बारे में खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से बात करेंगी। लेकिन बच्चों को अंडे दिए जाएंगे। अब तो खुद मुख्यमंत्री ने यह फरमान सुना दिया है कि 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर आंगनवाड़ियों में बच्चों को दूध पिलाया जाएगा, अंडा नहीं खिलाया जाएगा।