October 4, 2022

उज्जैन पहुंचे सीएम शिवराज को झेलनी पड़ी नाराज़गी, दिव्यांग के सवाल पर साधी चुप्पी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को उज्जैन में किसानों के बैंक खाते में फसल बीमा राशि का हस्तांतरण किया। किसानों के फसल बीमा वितरण कार्यक्रम में जब वे अपनी उपलब्धियों का बखान कर रहे थे तब सभा में एक पीड़ित दिव्यांग ने अपनी बात कहनी शुरू कर दी। मुख्यमंत्री शिवराज सेअपने अंदाज़ में टाल कर उसे चुप करवाना चाहा मगर पीड़ित दिव्यांग ने विकलांगों की समस्या बतानी जारी रखी।उसका विरोध देख शिवराज को कुछ पल भाषण रोक देना पड़ा। 

दिव्यांग के विरोध का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिना रहे थे। तभी भाषण के दौरान उन्हें टोकते हुए कहा सभा में बैठे एक व्यक्ति ने जोर से कहा कि  दिव्यांगों की मांग पूरी करो। सीएम ने चिर परिचित अंदाज़ में उसे टालते हुए कहा कि भाई तेरी भी बात सुनेंगे। मगर वह व्यक्ति रुका नहीं। उसने कहा कि 15 सालों से समस्या दूर नहीं हुई है। वह अपनी बात कहता रहा। उसके आक्रोश को देख शिवराज ने कुछ पल चुप्पी साध ली। ।

अभिभावकों ने भी किया विरोध प्रदर्शन

शुक्रवार सुबह मुख्यमंत्री के आने की जानकारी लगते ही स्कूल फीस को लेकर परेशान अभिभावक सड़क पर आ गए।  बड़ी संख्या में पहुंचे अभिभावकों ने देवास रोड़ पर खड़े होकर मुख्यमंत्री से मिलने के लिए हंगामा किया। अभिभावकों का कहना है कि लॉकडाउन के कारण नौकरी पर संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में स्कूल की फीस कहां से जमा करें? सरकार के इनकार के बाद भी फिर फीस वसूली जा रही है। वे सीएम से मिलकर ज्ञापन देना चाहते थे। प्रशासन ने अभिभावको को मिलने नहीं दिया तो उन्होंने हंगामा कर दिया। विरोध बढ़ता देख प्रशासन ने कुछ अभिभावकों को सीएम से मिलवाने का आश्वासन दिया तब जा कर मामला शांत हुआ।