October 4, 2022

चंबल के रण में पायलट की एंट्री, काँग्रेस खुद्दार वर्सेस गद्दार कैम्पेन चलाने की तैयारी में

  • कांग्रेस चंबल के रण में खुद्दार वर्सेस गद्दार कैम्पेन चलाने की तैयारी में है। इस कैम्पेन में युवा नेता सचिन पायलट को सिंधिया के खिलाफ चुनावी समर में उतारने की तैयारी हो रही है। AICC ने भी इसे बाकायदा अप्रूवल दे दिया है।

मध्य प्रदेश में सियासी जंग तेज होती नजर आ रही है। अब कांग्रेस चंबल के रण में खुद्दार वर्सेस गद्दार कैम्पेन चलाने की तैयारी में है। इस कैम्पेन में युवा नेता सचिन पायलट को सिंधिया के खिलाफ चुनावी समर में उतारने की तैयारी हो रही है। AICC ने भी इसे बाकायदा अप्रूवल दे दिया है।

कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह का इन सब पर कहना है कि सचिन पायलट देश के युवा नेता हैं और ग्वालियर चंबल संभाग से उनका काफी टच है। हर चुनाव में वे यहां प्रचार करने आते हैं, युवाओं के बीच उनका अच्छा खासा क्रेज भी है।

वहीं सचिन पायलट के कैंपेन को लेकर बीजेपी ने तंज कसा है। बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर का कहना है, ”अच्छी बात है सचिन पायलट ग्वालियर चंबल संभाग प्रचार प्रसार करेंगे। इस दौरान यहां के लोगों को यह जानने का मौका मिलेगा कि आखिर किस तरीके से एक पार्टी अपने युवा नेता अपमान करती है। ” पराशर ने कहा, ”प्रदेश अध्यक्ष पद पर रहते हुए उनके लिए किस तरह के अपशब्दों का प्रयोग किया गया है, यह सब जनता के बीच होगा।”

वहीं बीजेपी के आरोपों पर कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह का कहना है कि हमारे पार्टी के अंदर क्या हो रहा है यह देखने का काम हमारे आलाकमान नेताओं का है। बीजेपी दूसरे के घर में न देखा करे बल्कि अपना घर देखे। जब से सिंधिया और उनके समर्थक बीजेपी में आए हैं तब से बीजेपी में ही अंतर कलह मचा हुआ है।