October 4, 2022

मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के लिए मंदिर के नाम पर वोट मांगने का वीडियो वायरल

मध्यप्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले आगामी विधानसभा उपचुनाव के लिए सभी पार्टियां और नेता मतदाताओं को साधने की जुगत में हैं। इसी बीच सुरखी विधानसभा क्षेत्र का एक वीडियो अजीबोगरीब कारणों से सुर्खियों में है। सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में देखा जा सकता है कि बीजेपी कार्यकर्ता राम के नाम पर वोटर्स को कैसे बरगलानेे की कोशिश कर रहे हैं।

वायरल वीडियो में एक व्यक्ति भगवान कृष्ण और राधा का कैलेंडर लिए एक बुजुर्ग महिला के पास जाता है। कैलेंडर में नीचे मध्यप्रदेश के सड़क परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत की फ़ोटो लगी है। इस दौरान वह व्यक्ति कहता है कि, ‘ये हैं गोविंद भइया। राम मंदिर बनवा रहे हैं मोदी जी। तो सब जने फूल में हो गए हैं। हम एक वोट फूल में देंगे तो एक ईंट लगेगी राम मंदिर में, पुण्य अलग मिलेंगे।’

बताया जा रहा है कि इस तरह प्रचार करता दिखाई दे रहा व्यक्ति गोविंद राजपूत का समर्थक नरेंद्र डब्बू आठिया है जो गोविंद के साथ कांग्रेस से बीजेपी में चला गया है। कांग्रेस में रहते हुए यह जिला ग्रामीण महासचिव के पद पर था। बता दें कि इसके पहले गोविंद सिंह राजपूत ने पूरे विधानसभा क्षेत्र में राम शिला रथ यात्रा भी निकाली थी। मामले पर कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी सिर्फ राम के नाम की राजनीति कर रही है, उनके पास विकास का मुद्दा है नहीं जिसपर वोट मांग सकते हैं।

पारुल साहू के कांग्रेस में जाने से बदले समीकरण

मध्यप्रदेश उपचुनाव के लिए सुरखी विधानसभा को हाई प्रोफाइल सीट माना जा रहा है। क्षेत्र में राजनीतिक गतिविधियां भी अपने चरम पर है। इसी बीच बीजेपी नेता व पूर्व विधायक पारुल साहू ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है। पारुल के कांग्रेस में आने से चुनावी समीकरण बदल गया है। माना जा रहा है कि पारुल ही कांग्रेस की ओर से गोविंद के खिलाफ मैदान में उतरेंगी। दोनों के बीच चुनाव में कांटे की टक्कर मानी जा रही है। बता दें कि साल 2013  के विधानसभा चुनाव में पारुल साहू ने गोविंद राजपूत को हरा दिया था लेकिन 2018 में उन्हें टिकट नहीं मिला था। अब देखना यह होगा कि सुरखी विधानसभा के लोग किसे अपना नेता मानते हैं।