October 8, 2022

किसान क्रेडिट कार्ड पर काँग्रेस ने कहा – किसान क्रेडिट कार्ड योजना में प्रदेश के किसानों के साथ भेदभाव हो रहा है

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव की तैयारियां लगातार तेज होती जा रही हैं। इसी बीच प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के लिए कर्जमाफी योजना और किसान क्रेडिट कार्ड योजना का भी शुभारंभ किया जा चुका है। जिस पर कांग्रेस ने हमला बोलते हुए कहा है कि किसान क्रेडिट कार्ड योजना में प्रदेश के किसानों के साथ भेदभाव हो रहा है। उनका आरोप है कि योजना का लाभ केवल उपचुनाव वाले जिलों के किसानों को ही दिया जा रहा है।

क्रेडिट कार्ड योजना को बताया नौटंकी

भोपाल में आयोजित कार्यक्रम में कृषकों को शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण देने के लिए प्रदेश सरकार ने सहकारी बैंकों को 800 करोड़ रुपये की राशि भेजी है। जिस पर कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने ट्वीट कर कहा अभी विभिन्न चैनलों पर मप्र सरकार की सरकारी खर्च पर एक नौटंकी चल रही है। उन्होंने ‘किसान क्रेडिट कार्ड योजना- सबको साख सबका विकास’ योजना को एक नौटंकी करार दिया है।

धन्य हो फर्जीवाड़ा !

कांग्रेस प्रवक्ता ने आरोप लगाया है कि यह कार्यक्रम सिर्फ उन्हीं क्षेत्रों के लिए है जहां उपचुनाव होने हैं। साथ ही कहा ‘सीतामऊ, सांची, भिंड, जौरा के चिन्हित किसानों को तो मैं स्वयं देख चुका हूं! धन्य हो फर्जीवाड़ा..’ कांग्रेस की ओर से इस तरह के आरोप लगातार लगाए जा रहे हैं। इससे पहले भी उन्होंने आरोप लगाया था कि किसानों को कर्जमाफी के रूप में मात्र 4 और 10 रुपये ही मिले है। जिसे भाजपा सरकार ने स्वीकार करते हुए जांच के निर्देश दे दिए हैं।