January 29, 2023

कृषि मंत्री कमल पटेल के क्षेत्र में तीन किसानों ने आत्महत्या की कोशिश की

मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल के क्षेत्र में गुरुवार सुबह तीन किसानों ने आत्महत्या की कोशिश की। किसानों ने पुलिस प्रशासन के सामने ही जहर पी लिया। तीनों किसान अस्पताल में भर्ती हैं। किसान का जहर पीते हुए वीडियो वायरल हुआ है।

हरदा जिले की खिरकिया तहसील में किसान चने का भुगतान नहीं मिलने को लेकर प्रदर्शन करने के लिए एकत्र हुए थे, तभी एक किसान ने अपने पास से जहर निकालकर पी लिया। उसकी हालत तुरंत बिगड़ गई, उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना का वीडियो भी वायरल हुआ है। जिन किसानों ने जहर पिया है उनके नाम सूरज पिता भागीरथ पंवार 30 नीमगांव, संदीप पिता कैलाशचंद्र बाबल 25 धनगांव और परमानंद पिता हुकमचंद 35 सारंगपुर हैं।

जिला सहकारी बैंक की खिरकिया शाखा से संबद्ध सहकारी समिति चौकड़ी में समर्थन मूल्य पर चना बेचने वाले एक किसान ने गुरुवार सुबह गांव में स्थित समिति कार्यालय के बाहर जहर खाकर जान देने की कोशिश की। इससे तीन दिन पहले किसानों ने जिला प्रशासन को ज्ञापन देकर चेतावनी दी थी कि 72 घंटे में चने का भुगतान नहीं मिला तो वे फंदा लगाकर जान दे देंगे।

ऐसे पिया जहर

दो दिन में स्थिति नहीं बदली तो गुरुवार सुबह किसान छोटू उर्फ सूरज विश्नोई निवासी नीमगांव अपने साथियों को लेकर समिति कार्यालय पहुंच गया। वे यहां फंदा लगाने के लिए खुंटे गाड़ने की तैयारी में थे। मौके पर पुलिस बल भी पहुंच गया था। इसी दौरान किसानों ने प्रशासन और सहकारिता विभाग के सहायक आयुक्त अखिलेश चौहान का नाम लेकर नारेबाजी शुरू कर दी। कुछ देर में सूरज ने एक शीशी निकाली और गटक ली। यह देखते ही वहां हड़कंप मच गया। जहर गटकने वाला किसान मौके से भागा तो अन्य लोग और पुलिस भी उसके पीछे गई। सूरज को तत्काल जिला मुख्यालय के एक निजी नर्सिंग होम लाया गया। जहां उसका इलाज शुरू हो गया है।

एएसपी गजेंद्र सिंह वर्धमान ने कहा कि दो दिन पहले जिन किसानों ने चेतावनी दी थी उनमें से एक सूरज ने शीशी निकालकर गटक ली। उसे इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि कलेक्टर संजय गुप्ता फोन पर उपलब्ध नहीं हो पाए।