October 2, 2022

अतिथि विद्वान ने मुख्यमंत्री से मिलवाने का आग्रह किया तो उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव बोले – मैं कर लूं क्या आत्महत्या, मैं कैसे मिलवाऊं?

प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव अपनी मांग के साथ मिलने आए अतिथि विद्वान को फटकारते हुए नजर आ रहे हैं। जब अतिथि विद्वान ने मुख्यमंत्री से मिलवाने का आग्रह किया तो उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने जवाब में कहा कि मैं कर लूं क्या आत्महत्या, मैं कैसे मिलवाऊं?

कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव के इस बर्ताव पर कहा कि विपक्ष में रहते अतिथि विद्वानों  के धरने पर जाकर राजनीति करने वाली बीजेपी की ये हक़ीक़त है? कहाँ हैं सड़कों पर उतरने वाले श्री अंत?

ग़ौरतलब है कि बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अतिथि विद्वानों की मांग पूरी करने का आश्वासन दिया था। शिवराज सिंह चौहान सरकार ने भी कहा था कि हटाए गए सभी 1800 अतिथि विद्वानों की वापसी होगी। अतिथि विद्वानों के लिए 2020-21 में पढ़ाने के लिए कैलेंडर भी जारी कर दिया गया था। लेकिन एक महीना बीत जाने के बाद भी अतिथि विद्वानों की दोबारा नियुक्ति को लेकर अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।