October 2, 2022

मध्यप्रदेश में विधानसभा उपचुनाव 3 नवंबर को, 10 नवंबर को आएँगे नतीज़े, प्रदेश में आचार संहिता लागू

  • एमपी में 6 महीने से ज्यादा समय से 22 सीट खाली, कुल 28 सीटों पर होने है चुनाव।
  • असम, केरल, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में उप चुनाव नहीं होंगे उपचुनाव।

मप्र में 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव पर 3 नवम्बर को मतदान होगा। परिणाम 10 नवम्बर को आएंगे। चुनाव आयोग की इस घोषणा के साथ ही प्रदेश में चुनाव वाले क्षेत्रों में आचार संहिता लागू हो गई है। एमपी के साथ छत्तीसगढ़, गुजरात, झारखंड, कर्नाटक, नागालैंड, ओडिसा, यूपी में भी विधानसभा की रिक्त सीटों पर उप चुनाव होगा। 

आयोग के अनुसार नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख 16 अक्टूबर है। 19 अक्टूबर तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। विभिन्न राज्यों में होने वाले लोक सभा और विधान सभा उपचुनाव को ले कर हुई बैठक में आयोग ने निर्णय लिया है कि असम, केरल, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में उप चुनाव नहीं करवाए जाएंगे। आयोग को इन राज्यों से जानकारी मिली है कि ये राज्य कोरोना काल में उप चुनाव करवाने में असमर्थ हैं। 

एमपी में चुनाव न होने से छह माह से 22 विधानसभा सीट खाली हैं। उसके बाद कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी में जाने और निधन से छह सीट और खाली हुई हैं। इन 28 सीटों पर उप चुनाव होने हैं।

उप चुनाव की तिथि घोषित होने के साथ ही आचार संहिता लागू हो गई है, आयोग ने कहा है कि यदि कोई सीट नगर निगम क्षेत्र में आती है तो चुनाव आचार संहिता पूरे नगर निगम क्षेत्र में लागू नहीं होगी। विधानसभा क्षेत्र जहां तक है वहीं तक आचार संहिता रहेगी।

28 में से 13 सीट ऐसी हैं जहां नगर निगम सीमा आती है। इन सीटों में जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, ग्वालियर 15, ग्वालियर पूर्व, डबरा, मांधाता, नेपानगर, हाटपिपल्या, सुरखी, सांवेर शामिल हैं। इन सीटों के जिलों इंदौर, ग्वालियर, बुरहानपुर, खंडवा, सागर, देवास, मुरैना में सीमित आचार संहिता लगेगी। 12 जिलों की 15 सीटों सांची (रायसेन), अनूपपुर (अनूपपुर), सुवासरा (मंदसौर), बदनावर (धार), ब्यावरा (राजगढ़), अशोकनगर-मुंगावली (अशोकनगर), बामोरी (गुना), करैरा-पोहरी (शिवपुरी), भांडेर (दतिया), बड़ा मलहरा (छतरपुर), मेहगांव-गोहद (भिंड), आगर (आगरमालवा) में पूर्ण क्षेत्र में आचार संहिता लागू होगी।