November 28, 2022

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा – मध्यप्रदेश वालो, जीतेगा वही जिसमें है दम, बेंगलुरु भाग जाए उसे क्यों चुने हम।

  • पटवारी बोले- 10 नवंबर को पुनः लोकप्रिय और जन हितैषी सरकार कमलनाथ के नेतृत्व में बनेगी।
  • पटवारी ने ट्वीट कर इंदौर और प्रदेश में कोरोना फैलने को लेकर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री को जिम्मेवार ठहराया।

मध्य प्रदेश में उपचुनाव की तारीख तय होने के साथ जनप्रतिनिधियों का एक-दूसरे पर जुबानी हमला तेज हो गया है। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने भी बुधवार को एक के बाद एक कई ट्वीट कर सरकार से लेकर मीडिया और आम जनता तक पर हमला बोला। पटवारी ने ट्वीट में लिखा- अब तो विश्वास होने लगा है कि बिकी हुई मीडिया और सोई हुई जनता ही देश की बर्बादी का कारण होती है। काले कानून से किसान परेशान, बेरोजगारी से युवा परेशान, अर्थव्यवस्था कैसे सुधरे, इस पर नहीं सरकार का ध्यान, कंगना, सुशांत, रिया, छज्जा चिल्लाना यही है आज की मीडिया की पहचान, कैसे बने मेरा देश महान।

पटवारी ने ट्वीट कर सरकार को भी घेरा

3 नवम्बर को लोकतंत्र के हत्यारों को, किसानों के कर्ज माफी को रोकने के गुनहगारों को, कोरोना में झोंककर कई घरों की रोशनी छीनने वालों को, अतिथि विद्वानों का नियमितीकरण रोकने वालों को, दलबदलू सौदेबाजों को जनता का मिलेगा जवाब.. होगा एक-एक पापों का हिसाब।

कोरोना को लेकर सिलावट पर साधा निशाना

पिछले 20 दिनों में, 1500 चिताएं जलीं, 500 के लगभग नए संक्रमित रोज, 25000 से ज़्यादा संक्रमित, यह सब सरकारी आंकड़े, सच्चाई इससे और भयंकर है। इसका जिम्मेवार तो बेंगलुरु भागा हुआ पूर्व स्वास्थ्य मंत्री है। इंदौर परिवार जन के लिए कांग्रेस-भाजपा से ऊपर उठकर विचार होना चाहिए।

चुनाव की तारीख पर कहा

हनुमान भक्त कमलनाथ को मिला वरदान, मंगलवार दिनांक 29 सितंबर को चुनाव की घोषणा हुई, मंगलवार दिनांक 3 नवंबर को वोटिंग होगी और मंगलवार दिनांक 10 नवंबर को काउंटिंग होगी। हनुमान लला की जय। आख़िर वह दिन आ ही गया, लोकतंत्र के गद्दारों से किसानों के हत्यारों से 3 नवंबर को बदला लेना है। 10 नवंबर को पुनः लोकप्रिय और जन हितैषी सरकार कमलनाथ जी के नेतृत्व में बनेगी।