April 14, 2024

पूर्व विधायक नारायण पटेल बीजेपी के लिए वोट मांगने गए मगर जनता को कह आए कि पंजे के निशान पर वोट देना

मध्यप्रदेश में तीन नवंबर को 28 सीटों पर उपचुनाव होने हैं। सभी राजनीतिक पार्टियों के नेताओं और उम्मीदवारों ने जनसभाएं शुरू कर दी हैं। इसी कड़ी में पूर्व कांग्रेस विधायक का एक अजीबो गरीब वाकया देखने को मिला। मांधाता सीट से 2018 में कांग्रेस के टिकट पर जीतकर आए नारायण पटेल गे तो थे बीजेपी के लिए वोट मांगने मगर जनता को कह आए कि पंजे के निशान पर ही वोट देना। नारायण पटेल, मांधाता सीट से बीजेपी के संभावित उम्मीदवार हो सकते हैं। कांग्रेस का दामन छोड़ने वाले नारायण पटेल एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

नारायण पटेल ने एक सभा को संबोधित करते हए कहा कि जब आप तीन नवंबर को किसी स्कूल या भवन में मतदान करने जाएं, तो आपको हाथ के पंजे का निशान दिखना चाहिए। सभा स्थल पर नारायण पटेल के साथ मौजूद बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने तत्काल इशारा दिया तभी नारायण पटेल को अपनी फिसली ज़ुबान का अंदाज़ा हो गया। नारायण पटेल ने डैमेज कंट्रोल करते हुए कहा कि ‘माफी चाहता हूं, पंजा नहीं फूल ( कमल का निशान ) दिखना चाहिए, फूल दिखना चाहिए।’

नारायण पटेल का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया पर लोग नारायण पटेल के खिलाफ तरह तरह की टिप्पणियां कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि नारायण पटेल के दिल की बात आखिर ज़ुबान पर आ ही गई। तो वहीं मध्यप्रदेश यूथ कांग्रेस ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर इस वीडियो को साझा किया है। यूथ कांग्रेस ने लिखा है ‘मांधाता के जयचंद नारायण पटेल के मन की बात आई ज़ुबान पर, कहा – आप वोट डालने जाए तो आपको सिर्फ हाथ का पंजा दिखना चाहिए।’

2018 के चुनावों में नारायण पटेल कांग्रेस के टिकट पर खण्डवा जिले के मांधाता विधानसभा क्षेत्र से जीत कर विधानसभा पहुंचे थे। मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन होने के बाद नारायण पटेल भी हाल ही में कांग्रेस का दामन छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए। कांग्रेस ने इस दफा मांधाता से उत्तम राज नारायण सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है।

About Author