December 10, 2022

कोलकाता नाइट राइडर्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 10 रनों से हराया, सीज़न में तीसरी जीत दर्ज़ की

आईपीएल के 13वें सीजन के 21वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 10 हरा दिया। अबु धाबी में खेले गए मैच में कोलकाता ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए 168 रन का टारगेट दिया। जवाब में चेन्नई 5 विकेट पर 157 रन ही बना सकी। केकेआर के ओपनर राहुल त्रिपाठी ने सबसे ज्यादा 81 रन बनाए। उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। 

13वें ओवर तक मैच चेन्नई की पकड़ में था, तभी वॉटसन का आउट होना मैच का टर्निंग पॉइंट हो गया। कोलकाता के शिवम मावी, वरुण चक्रवर्ती, कमलेश नागरकोटी, सुनील नरेन और आंद्रे रसेल को 1-1 विकेट मिला। केकेआर 6 पॉइंट के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है।

वॉटसन के विकेट से मैच पलटा

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई की शुरुआत शानदार रही थी। शेन वॉटसन (50) ने फाफ डु प्लेसिस (17) के साथ 30 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप की। इसके बाद अंबाती रायडू (30) के साथ 69 रन की साझेदारी की। चेन्नई ने 2 विकेट गंवाकर 13 ओवर में ही 100 रन पूरे कर लिए थे। तभी वॉटसन को सुनील नरेन ने एलबीडब्ल्यू कर मैच पलट दिया। यहां से कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (11) समेत चेन्नई का कोई भी बल्लेबाज पारी को नहीं संभाल सका।

चेन्नई की सीजन में चौथी हार

सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स की यह चौथी हार है। सीएसके ने अब तक 6 मैच खेले हैं, जिनमें से उसे सिर्फ 2 में ही जीत मिली है। इस हार के साथ चेन्नई पॉइंट्स टेबल में 4 पॉइंट के साथ पांचवें स्थान पर है।

कोलकाता की टीम 168 रन पर सिमटी

इससे पहले टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए केकेआर 168 रन ही बना सकी। कोलकाता के ओपनर ओपनर राहुल त्रिपाठी ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 81 रन की पारी खेली। राहुल ने 51 बॉल पर 8 चौके और 3 छक्के लगाए। वहीं, चेन्नई के ड्वेन ब्रावो ने 3 जबकि कर्ण शर्मा, शार्दुल ठाकुर और सैम करन ने 2-2 विकेट लिए।

राहुल त्रिपाठी के अलावा कोई बल्लेबाज नहीं चला

केकेआर के ओपनर राहुल त्रिपाठी के अलावा कोई बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका। सुनील नरेन और पैट कमिंस ने 17-17 रन की पारी खेली। कप्तान दिनेश कार्तिक 12, नीतीश राणा 9, इयोन मोर्गन 7 और आंद्रे रसेल 2 रन बनाकर आउट हुए। कोलकाता की टीम 168 रन पर ऑलआउट हो गई।

पावरप्ले में केकेआर ने 52 रन बनाए

कोलकाता के लिए सुनील नरेन की जगह राहुल त्रिपाठी ने शुभमन गिल के साथ पारी की शुरुआत की। दोनों ने टीम को सधी हुई शुरुआत दिलाई और 37 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप की। शार्दुल ठाकुर ने शुभमन गिल (11) को धोनी के हाथों कैच कराकर चेन्नई को पहली सफलता दिलाई।