April 14, 2024

मध्यप्रदेश में अगले माह होगा कॉलेज विद्यार्थियों का प्रमोशन

  • उच्च शिक्षा कोरोना काल में विद्यार्थियों को परेशानी न हो, इसलिए यह सुविधा दी जा रही है।

उच्च शिक्षा विभाग के विद्यार्थियों को प्रमोट बॉक्स से ऑनलाइन अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। इसके तहत विद्यार्थियों की अहर्ता का परीक्षण कर स्नातक प्रथम, द्वितीय वर्ष व स्नातकोत्तर तृतीय सेमेस्टर के लिए विभाग के पोर्टल पर दिए गए प्रमोट बाक्स पर क्लिक कर विद्यार्थी को अगली कक्षा में प्रावधिक प्रवेश के लिए प्रमोट करेंगे। कॉलेज की प्रवेश समिति ई-प्रवेश पोर्टल पर विद्यार्थियों का नामांकन क्रमांक दर्ज करेगी। इससे विद्यार्थी का संपूर्ण विवरण पोर्टल पर आवेदन के रूप में प्रदर्शित होने लगेगा। इस दौरान कॉलेज ही ऑनलाइन सत्यापन करेगा और प्रवेश शुल्क व पोर्टल शुल्क के लिए लिंक जारी करेगा।

द्वितीय और तृतीय वर्ष में दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों को ई-प्रवेश पोर्टल पर लॉगिन आइडी से प्रवेश शुल्क की प्रथम किस्त के रूप में 500 रुपए जमा करना होंगे। शेष राशि कॉलेज द्वारा निर्धारित किस्तों में ऑनलाइन ही कॉलेज शुरू होने पर जमा की जाएगी। उच्च शिक्षा कोरोना काल में विद्यार्थियों को परेशानी न हो, इसलिए यह सुविधा दी जा रही है।

उच्च शिक्षा विभाग के ओएसडी डॉ. धीरेंद्र शुक्ल ने बताया प्रदेश के बाहर से आने वाले छात्रों को प्रवेश के लिए माइग्रेशन प्रमाण पत्र व पात्रता प्रमाण पत्र संबंधित कॉलेज को ऑनलाइन भेजना होगा। इसके बाद प्रवेश देने वाला कॉलेज ई-प्रवेश पोर्टल पर दिए गए आवेदन में आवेदक विद्यार्थी की प्रविष्टि करेंगे। इसके बाद फीस की लिंक जारी की जाएगी।

अधिकारियों के मुताबिक यह प्रक्रिया नवंबर तक पूरी की जाएगी। ई-प्रवेश पोर्टल से फीस जमा करने के बाद प्रिंट आउट अपने पास रखना होगा। जब कॉलेज शुरू होंगे, तब दस्तावेजों के सत्यापन के समय इसे जमा करना होगी।क्या है प्रमोट बॉक्सकॉलेजों में प्रवेश लेने वाले छात्रों के लिए प्रमोट बॉक्स बनाया है।

छात्रों की प्रोफाइल खोलने पर प्रमोट बॉक्स का आप्शन आएगा। इस पर क्लिक करते ही विद्यार्थी अगली कक्षा में प्रवेश कर जाएगा। कॉलेज की प्रवेश समिति ऑनलाइन विभाग के प्रमोट बॉक्स पर क्लिक कर विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रावधिक प्रवेश कराएगी। इसमें विद्यार्थी के संबंध में समस्त जानकारी रहेगी। इस प्रक्रिया से यूजी-पीजी के करीब 5 लाख छात्र जुड़े हैं।

About Author