April 16, 2024

कांग्रेस वचन पत्र में 52 नए वादे

  • कोरोना प्रभावित छोटे उद्यमियों को बिना ब्याज के 50 हज़ार तक कर्ज और परिवार के मुखिया की कोरोना से मौत होने पर मिलेगी पेंशन।

कांग्रेस ने मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव से पहले जारी अपने नए वचनपत्र में कोरोना महामारी से प्रभावित लोगों को राहत देने पर खास ध्यान दिया है। इस वचन पत्र में पुराने वादों के साथ-साथ 52 नए वचनों को भी जगह दी गई है। इनमें परिवार के मुखिया की कोरोना से मौत होने पर दी जाने वाली पेंशन और छोटे कारोबारियों को 50 हज़ार रुपये तक के ब्याज़ मुक्त कर्ज़ की पेशकश सबसे अहम हैं। इसके अलावा वचन पत्र में किसान कर्ज़माफी समेत कमलनाथ सरकार की कई लोकप्रिय योजनाओं को फिर से शुरू करने का वादा भी किया गया है।

कोरोना सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना  

कांग्रेस ने मतदाताओं से वादा किया है कि सरकार में आने के बाद कांग्रेस कोरोना सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना लेकर आएगी। इस योजना के तहत अगर कोरोना के कारण परिवार का पोषण करने वाले मुखिया की मृत्यु हो जाती है तो उसकी विधवा को सामाजिक सुरक्षा हेतु नयी कोरोना सामाजिक सुरक्षा पेंशन दी जाएगी।

किसानों का क़र्ज़ माफ़, बिजली बिल हाफ 

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि अगर प्रदेश की सत्ता में कांग्रेस एक बार फिर वापसी करती है तो कांग्रेस द्वारा शुरू की गई जय किसान ऋण माफ़ी योजना को फिर से शुरू किया जाएगा। जिसके फलस्वरूप इस योजना के दायरे में आने वाले सभी किसानों का क़र्ज़ माफ़ किया जाएगा। इसके साथ ही कांग्रेस ने सत्ता में लौटने पर इंदिरा गांधी ज्योति योजना को फिर से शुरू करने का वादा भी किया गया है, जिसके तहत लोगों को 100 रुपये में 100 यूनिट की बिजली मिल सकेगी। शिवराज सिंह सत्ता में आने के साथ ही दोनों योजनाओं को बंद कर चुके हैं।

शुद्ध के लिए युद्ध, सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि बढ़ेगी 

कांग्रेस के वचन पत्र में मिलावट खोरों के खिलाफ युद्ध स्तर पर कार्रवाई करने का संकल्प है। कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में कहा है कि सत्ता में वापसी के बाद ‘हम  शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाकर खाद,बीज,कीटनाशक और दूध में मिलावट करने वालों के खिलाफ सख्त करेंगे।’ इसके अलावा सामाजिक सुरक्षा पेंशन राशि 600 रुपए प्रति माह से 800 रुपए प्रति माह तक बढ़ाना और निकट भविष्य में पेंशन की राशि एक हज़ार रुपए तक करने का वादा कांग्रेस ने किया है। 

स्व सहायता समूहों को रियायती दरों पर उपलब्ध होगा ऋण,छोटे उद्यमी को बिना ब्याज के ऋण  

कांग्रेस ने कहा है कि वो महिलाओं के सशक्तिकरण हेतु उनके स्वसहायता समूह को पांच लाख रुपए तक का ऋण रियायती दरों पर उपलब्ध कराया जाएगा।  इसके साथ ही कांग्रेस ने कहा है कि कोरोना काल में जिन छोटे उद्यमी और कारीगरों का धंधा चौपट हुआ है, कांग्रेस उन्हें 50 हज़ार रुपये तक का ऋण उपलब्ध कराएगी। खास बात यह है कि इस ऋण पर ब्याज नहीं देना होगा।

इसके अलावा कांग्रेस ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं और आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि का फैसला भी किया है। गौ धन सेवा योजना के तहत गौ शालाओं को सक्षम बनाने का वादा भी कांग्रेस ने अपने वचन पत्र के ज़रिए किया है। कांग्रेस ने शिक्षा कर्मी, विद्युत मंडलों के आउटसोर्स, जन स्वास्थ्य रक्षक, मण्डीकर्मी, लघु वनोपजकर्मी और अन्य कर्मचारियों की मांगों का निराकरण करने का वादा किया है। 

About Author