November 28, 2022

कांग्रेस का वचन पत्र – आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि करेंगे

मध्‍य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को देखते हुए कांग्रेस ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र को वचन पत्र बताते हुए इसमें मुख्‍य रुप से इसमें 52 बिंदुओं पर एमपी में विकास की नई तस्वीर बनाने की बात कही है।

आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि करेंगे

कोरोना संक्रमण काल में समर्पण भाव से काम करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकर्ता-सहायिका एवं आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि करेंगे। कांग्रेस सरकार के समय दिए वचन अनुसार सामाजिक सुरक्षा पेंशन राशि 300 से बढ़ाकर 600 कर दी थी, अब उसे 800 रू. प्रतिमाह करेंगे फिर 1000 रू. तक बढ़ाएंगे। कन्याओं के विवाह के लिए कांग्रेस सरकार ने सहायता राशि बढ़ाकर 51 हजार रू. की थी, शिवराज ने आते ही उसे बंद कर दिया, कांग्रेस उसे पुन: चालू करेगी।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने वचन पत्र में गोवर्धन सेवा योजना, कोरोना से मृत लोगों के परिवार के लिए पेंशन, कोरोना को राज्यस्तरीय आपदा घोषित करने जैसे वचन शामिल किए हैं। इसके अलावा, यदि किसी परिवार के मुखिया की कोरोना की वजह से मौत हो जाती है तो उसके परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की भी बात कही गई है। साथ ही किसानों की कर्ज माफी को पूरा करने और गेस्ट टीचर्स को नियमित करने का भी वादा किया गया है। बता दें कि गेस्ट टीचर्स कई सालों से नियमित करने की मांग कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के 22 विधायकों के त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल होने के कारण प्रदेश की तत्कालीन कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी, जिसके कारण कमलनाथ ने 20 मार्च को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।