April 14, 2024

मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को 10 विकेट से हराया

आईपीएल के 13वें सीजन के 41वें मैच में मुंबई इंडियंस (MI) ने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को 10 विकेट से हरा दिया। शारजाह में खेले गए मैच में टॉस हारकर बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई ने 115 रन का टारगेट दिया। जवाब में मुंबई ने 12.2 ओवर में बिना कोई विकेट खोए 116 रन बनाकर मैच जीत लिया। ईशान किशन ने नाबाद 68 और क्विंटन डिकॉक ने नाबाद 46 रन बनाए। 

आईपीएल में पहली बार चेन्नई लीग राउंड में 8 मैच हारी है। इससे पहले चेन्नई 2010 और 2012 में लीग में 7-7 मैच हारी थी। इस हार के बाद प्ले-ऑफ के लिए चेन्नई का सफर लगभग खत्म हो गया है। उसे अब अपने बचे तीनों मैच जीतने के अलावा बाकी टीमों के नतीजों पर भी निर्भर रहना पड़ेगा। वहीं, मुंबई सीजन में अपनी 7वीं जीत के साथ पॉइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गई है।

चेन्नई पहली बार 10 विकेट से हारी

आईपीएल में पहली बार किसी टीम ने चेन्नई सुपर किंग्स को 10 विकेट से हराया है। इससे पहले 2008 में वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस ने ही धोनी की टीम को 9 विकेट से हराया था।

बची गेंदों के लिहाज से भी सबसे बड़ी हार

मुंबई ने यह मैच 46 गेंद रहते जीत लिया। चेन्नई के लिए बची गेंदों के लिहाज से भी यह सबसे बड़ी हार है। इससे पहले 2012 में दिल्ली ने चेन्नई को 40 गेंद रहते हराया था। वहीं, 2008 में मुंबई ने 37 और राजस्थान ने 34 गेंद शेष रहते चेन्नई को शिकस्त दी थी।

बोल्ट की सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग परफॉर्मेंस

ट्रेंट बोल्ट को मैन ऑफ द मैच चुना गया। वे आईपीएल में अब तक 54 विकेट ले चुके हैं। इस मैच में उन्होंने 4 ओवर में 18 रन देकर 4 विकेट लिए, जो कि उनकी सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन है। इससे पहले उन्होंने 2015 में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मोहाली में 4 ओवर में 19 रन देकर 3 विकेट लिए थे।

ओपनिंग मैच में चेन्नई ने हराया था

19 सितंबर को आईपीएल के ओपनिंग मुकाबले में चेन्नई ने मुंबई को 5 विकेट से हराया था। अबु धाबी में खेले गए इस मुकाबले में मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई को 163 रन का टारगेट दिया था। जवाब में चेन्नई ने 19.2 ओवर में 5 विकेट पर 166 रन बनाकर मैच जीता था।

करन ने चेन्नई को 100 के पार पहुंचाया

इससे पहले चेन्नई के सैम करन ने आईपीएल में अपनी दूसरी फिफ्टी लगाई। वे 52 रन बनाकर आउट हुए। करन की पारी की बदौलत ही चेन्नई 20 ओवर खेल सकी और 9 विकेट पर 114 रन तक पहुंच पाई। चेन्नई के 6 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके।

करन के अलावा शार्दूल ठाकुर ने 11 और इमरान ताहिर ने नाबाद 13 रन बनाए। मुंबई के ट्रेंट बोल्ट ने 4, जसप्रीत बुमराह-राहुल चाहर ने 2-2 और नाथन कूल्टर-नाइल को एक विकेट मिला।

About Author