December 9, 2022

इंदौर के कार्यक्रम में गृह मंत्री हुए शामिल, अन्न उत्सव के दौरान हुआ ये वाक्या

इंदौर- प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत शनिवार को इंदौर सहित पूरे प्रदेश में अन्न उत्सव का आयोजन किया गया। मूसाखेड़ी में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री व गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा भी शामिल हुए और हितग्राहियों को अन्न का वितरण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा आज हमने भूखे को रोटी और प्यासे को पानी देने जैसी स्थिति देशभर में निर्मित कर दी है। हालांकि कुछ कांग्रेसी गृहमंत्री के विरोध में सड़क पर उतरे और उन्हें काले झंड़े दिखाने की तैयारी में थे। पुलिस ने उन्हें पकड़कर गाड़ी में बिठाया और थाने ले गई।

कार्यक्रम में गृहमंत्री ने कहा कि गरीब की थाली न रहे खाली, यही सोच हम सबकी है। मोदी बाबा तूफानी हैं। भूखे को रोटी और प्यासे को पानी है। यह स्थिति हमने देश के भीतर निर्मित की है। आप देखिए कि 7 अलग-अलग राज्य के मंत्री हमारे इस कार्यक्रम का आज अध्ययन करने आए हैं। जितने भी कार्यक्रम मप्र चला रही है, चाहे वह लाड़ली लक्ष्मी योजना हो या फिर गरीब कल्याण अन्न योजना हो, देशभर में सराहा गया। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना को तो पूरे देश ने स्वीकार किया। यह भी एक नवाचार और अभिनव प्रयोग है। भाजपा गांव, गरीब, किसान की, झुग्गी-झोपड़ी के इंसान की और महिलाओं के सम्मान की चिंता करती है।

सभी के मान-सम्मान और जीवन की पूरी सुरक्षा हो

मिश्रा ने कहा कि हमारी संस्कृति में कहा गया है कि कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोए, हम इस संस्कृति के पोषक हैं। देश और प्रदेश में प्रयास किए जा रहे हैं कि हर व्यक्ति को भोजन के लिए सम्मान के साथ अन्न मिले। किसी भी गरीब की थाली खाली नहीं रहे। इसी दिशा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा कृत संकल्पित होकर कारगर प्रयास किए जा रहे हैं। सरकार का प्रयास है कि सभी के मान-सम्मान और जीवन की पूरी सुरक्षा हो।