December 7, 2022

राजधानी भोपाल में गरज-चमक के साथ हो सकती है बारिश, MP के 13 जिलों में यलो अलर्ट

मध्यप्रदेश में अगले 24 घंटे में 13 जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश के साथ बिजली गिर सकती है। मौसम विभाग ने रीवा, सागर, शहडोल संभाग के साथ ही प्रदेश के कुछ दूसरे जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है। भोपाल में गरज-चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है। रेड जोन के करीब चल रहे इंदौर संभाग में 15 अगस्त तक तेज बारिश के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। फिलहाल भोपाल-इंदौर में मानसून की कोई एक्टिविटी नहीं होने के कारण तेज बारिश की संभावना कम है।

इंदौर के साथ ही संभाग के चार जिले धार, बड़वानी, बुरहानपुर और खरगोन की हालत भी ठीक नहीं है। संभाग के सभी 8 जिले अलीराजपुर, बड़वानी, बुरहानपुर, धार, इंदौर, झाबुआ, खंडवा और खरगोन में औसत से कम बारिश हुई है। प्रदेश में 11 जिले रेड जोन में हैं।

अगले 24 घंटे में प्रदेश में बारिश की स्थिति

यलो अलर्ट : रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, डिंडौरी, रायसेन।

बिजली गिरने का अलर्ट: सागर, भोपाल, रीवा, शहडोल संभाग के साथ ही गुना, अशोकनगर, बालाघाट और नरसिंहपुर।

रिमझिम बारिश के आसार: रीवा, शहडोल, सागर, इंदौर, ग्वालियर, चंबल, भोपाल, होशंगाबाद, जबलपुर के साथ उज्जैन, रतलाम, शाजापुर, देवास, आगर, नीमच और मंदसौर।

इंदौर में मंगलवार को भी सुबह मौसम साफ था। कुछ देर के लिए हल्की धूप भी निकली। इंदौर में पिछले 24 घंटे में हुई 3.4 मिमी बारिश के साथ इसी सीजन में अब तक 329 मिमी बारिश रिकॉर्ड हो चुकी है। पिछले साल की बात करें तो अब तक 16 इंच बारिश हो चुकी थी। आंकड़ों में तो इंदौर में 13 इंच से ज्यादा पानी गिर गया है, लेकिन इसका असर तालाबों पर नजर नहीं आया है। बारिश का आधा सीजन निकलने के बाद भी तालाब लबालब नहीं हो पाए हैं।

ये जिले रेड जोन में

धार, बड़वानी, खरगोन, बुरहानपुर, हरदा, पन्ना, दमोह, कटनी, जबलपुर, सिवनी और बालाघाट।