July 3, 2022

इंदौर पिटाई कांड में भड़की सियायत, वार-पलटवार का दौर जारी- जानिए पूरा मामला

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के इंदौर (Indore) में चूड़ी बेचने वाले की पिटाई पर हो रही सियासत के बीच अब सरकार उन लोगों पर शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है जिन्होंने पुलिस थाने के बाहर सैकड़ों लोगों को इकट्ठा कर प्रदर्शन किया था. मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने मंगलवार को कहा है कि सूबे में पीएफआई यानी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया को बैन करने पर विचार किया जाएगा.

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ‘कल मुस्लिम समाज के प्रतिनिधी मुझसे मिले थे और उन्होंने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया को प्रतिबंधित करने के लिए मुझे आवेदन दिया है. मैंने राय लेने के लिए उनके आवेदन को विभाग में भेज दिया है. जल्द ही संज्ञान लेकर इस मामले में आगे बढ़ेंगे.

पहले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने युवक की पिटाई किए जाने पर सवाल उठाए। अब इस मामले को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने धार्मिक रंग देने की कोशिश की है।

ओवैसी ने जैसे ही सोशल मीडिया पर इस घटना को गोडसे की हिंदुत्ववादी सोच का नतीजा करार दिया, वैसे ही बीजेपी नेता भड़क गए। प्रदेश में हिंदुत्व के मुद्दे पर मुखरता से पैरवी करने वाले भोपाल से बीजेपी विधायक एवं पूर्व प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने औवेसी पर सबसे पहले पलटवार किया है। शर्मा ने कहा- मुस्लिम तुष्टीकरण की दुकान कहीं और लगाओ ओवैसी, यहां दिग्विजय सिंह काफी हैं।

इस मामले में ओवैसी ने मप्र सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा – ‘विराट हिंदुत्ववादी’ खुद को ‘विराट’ महसूस करवाने के लिए कभी किसी मुसलमान फ़क़ीर को मारता है, तो कभी भीड़ इकट्ठा करके चूड़ी बेचने वाले को पीट देता है। ये कम-ज़र्फ़ी और कमतरी गोडसे की हिंदुत्ववादी सोच का नतीजा है। अगर समाज ये सोच का मुकाबला नहीं करेगा तो ये कैन्सर की तरह फैलती रहेगी।दरअसल, इंदौर में चूड़ी बेचने वाले शख्स की पिटाई के बाद जब पुलिस ने कार्रवाई नहीं की थी तो सैकड़ों लोगों ने इंदौर में कोतवाली थाने का घेराव किया और प्रदर्शन के साथ-साथ नारेबाजी भी की थी. इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने इसके बाद कहा था कि प्रदर्शन में अराजक तत्व भी शामिल थे. इसमे एसडीपीआई और पीएफआई के लोगों का हाथ सामने आया है. इंटेलिजेंस सब पर नज़र रख रही है.

बता दें कि जिस शख्स के साथ मारपीट की गई, उसपर आरोप है कि इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र के गोविंद नगर में चूड़ी पहनाने के लिए नाम बदलकर गया था. उसके खिलाफ पुलिस ने छेड़छाड़ और पॉक्सो एक्ट के तहत थाना बाणगंगा में केस दर्ज कर लिया है. छठी क्लास की छात्रा की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है.