November 29, 2022

IND vs SL 1st Test: दूसरे दिन का खेल खत्म, भारत ने पहली पारी 574 रनों पर की घोषित, श्रीलंका ने पहली पारी में 108 पर गंवाए 4 विकेट

भारत और श्रीलंका के बीच जारी पहले टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खत्म हो गया है। टीम इंडिया ने श्रीलंका के खिलाफ मैच के दूसरे दिन अपनी स्थिति बेहद मजबूत कर ली है। भारत ने अपनी पहली पारी 574/8 के स्कोर पर घोषित करने बाद दूसरे दिन स्टंप्स तक श्रीलंका के चार विकेट झटक लिए हैं। मेहमान टीम का स्कोर 108/4 है। श्रीलंका को फॉलोऑन टालने के लिए अब भी 267 रनों की जरूरत है। भारत की ओर से रविचंद्रन अश्विन ने दो और रवींद्र जडेजा और जसप्रीत बुमराह ने एक-एक विकेट लिया।

इससे पहले रवींद्र जडेजा ने करियर का दूसरा शतक जमाते हुए नाबाद 175 रन की पारी खेली। उन्होंने रविचंद्रन अश्विन (61) के साथ सातवें विकेट के लिए 132 रनों की साझेदारी की। इसके बाद जडेजा ने शमी के साथ मिलकर 9वें विकेट के लिए 94 गेंदों पर नाबाद 103 रन जोड़े और भारत का स्कोर 8 विकेट के नुकसान पर 574 रनों तक पहुंचाया। भारत को इस विशाल स्कोर तक पहुंचाने में ऋषभ पंत और हनुमा विहारी की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही। ऋषभ पंत ने 96 और हनुमा विहारी ने 58 रनों की पारी खेली थी।

भारत का 574/8 के जवाब में श्रीलंका की शुरुआत अच्छी रही। पहले विकेट के लिए दिमुथ करुणारत्ने और लाहिरू थिरिमाने ने 48 रन जोड़े। इस पार्टनरशिप को अश्विन ने थिरिमाने (17) को LBW आउट कर तोड़ा। भारत को दूसरी सफलता रवींद्र जडेजा ने दिमुथ करुणारत्ने (28) को LBW आउट कर दिलाई। भारत को तीसरी सफलता बुमराह ने मैथ्यूज को आउट कर दिलाई। श्रीलंका को तीसरा झटका 96 के स्कोर पर लगा। इसके बाद अश्विन ने धनंजय डी सिल्वा को आउट कर भारत को चौथी सफलता दिलाई। श्रीलंका का चौथा विकेट 103 के स्कोर पर गिरा।

सर जडेजा ने बल्ले से मचाया धमाल

रवींद्र जडेजा ने कमाल की बैटिंग करते हुए 228 गेंदों पर नाबाद 175 रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में ये उनका सबसे बढ़िया प्रदर्शन रहा। उन्होंने छक्का लगाकर पहली बार टेस्ट क्रिकेट में 150 रन का आंकड़ा पूरा किया था। जडेजा के टेस्ट करियर का ये दूसरा और फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनका ये 11वां शतक है। इससे पहले सर जडेजा ने 2018 में वेस्टइंडीज के खिलाफ नाबाद 100 रन की पारी खेली थी। टेस्ट क्रिकेट के अपने दोनों शतक जडेजा ने नंबर 7 पर बैटिंग करते हुए लगाए। जडेजा ने शतक का जश्न अपने ही स्टाइल में तलवार चलाकर बनाया।