July 3, 2022

कमलनाथ का बड़ा ऐलान, निकाय चुनाव के परिणाम ही तय करेंगे 2023 विधानसभा में MLA के भविष्य

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने नगरीय निकाय चुनाव को 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल बताया है और साफ किया है कि निकाय चुनाव के आधार पर ही 2023 में विधानसभा के टिकट बांटे जाएंगे. कमलनाथ ने कहा कि सभी विधायक और विधानसभा चुनाव लड़ने के दावेदार ये बात याद रखें कि निकाय चुनाव के प्रदर्शन के आधार पर ही रिपोर्ट कार्ड तैयार होगा.

नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस में टिकट बंटवारे में कई विधायकों की चली है. ऐसे में निकाय चुनाव के नतीजे ही तय करेंगे कि पार्टी अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में उन विधायकों को टिकट देगी या फिर नए चेहरों को तरजीह दी जाएगी. कमलनाथ के ऐलान के बाद विधायकों पर अपने इलाके में निकाय चुनाव जीताने की बड़ी जिम्मेदारी आ गई है.

कमलनाथ ने पार्टी नेताओं को चेताया है कि भाजपा सरकार प्रशासन का दुरुपयोग कर निकाय चुनाव में धांधली कर सकती है, ऐसे में सभी प्रत्याशी और नेता इस बात का खास ध्यान रखें और नामांकन प्रक्रिया से लेकर मतगणना होने तक पूरी तरह सजग रहें.

वहीं निकाय चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद आज भरे गए नामांकन पत्रों की जांच होगी. बता दें कि महापौर पद के लिए 197 और पार्षद पद के लिए 34,314 पर्चे भरे गए हैं. जिनमें भोपाल से 370, भिंड से 1279, ग्वालियर से 1142, जबलपुर से 1054 नामांकन किए गए हैं. नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 22 जून है और इसी दिन अभ्यर्थियों को निर्वाचन प्रतीकों का आवंटन कर दिया जाएगा.निकाय चुनाव के पहले चरण का मतदान 6 जुलाई को और दूसरे चरण का मतदान 13 जुलाई को होगा. वहीं मतगणना और परिणाम की घोषणा 17 जुलाई और दूसरे चरण की मतगणना और परिणाम 18 जुलाई को होगी.