July 3, 2022

संकट में है उद्धव सरकार, कांग्रेस ने कमलनाथ को महाराष्ट्र में ऑब्जर्वर बनाया

महाराष्ट्र की उद्धव सरकार खतरे में है। इस सियासी हलचल के मद्देनजर कांग्रेस ने मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को महाराष्ट्र भेजने का निर्णय लिया है। इस संबंध में ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी ने कमलनाथ को पूरे पॉलिटिकल डेवलपमेंट को लेकर ऑब्जर्वर नियुक्त करने का सर्कुलर जारी कर दिया है।

मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 25 जुलाई से शुरू होकर 29 जुलाई तक चलेगा। इस संबंध में मध्यप्रदेश विधानसभा सचिवालय ने सूचना जारी कर दी है। विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह ने बताया कि 25 जुलाई से शुरू होने वाले पांच दिवसीय सत्र में सदन की कुल 5 बैठकें होंगी।

बता दें, महाराष्ट्र में महाअघाड़ी गठबंधन जिसमें शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस मिलकर सरकार चला रहे हैं. विधानसभा में कुल विधायक की संख्या 287 है जिसमें से बहुमत के लिए 144 का आकड़ा है. वहीं, सरकार बनाने वाले शिवसेना के पास 55 विधायक हैं, एनसीपी के पास 55 विधायक हैं और कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं. इन तीनों के आकड़े को मिलाकर 152 विधायक बनते हैं जो बहुमत के आकड़े से अधिक है. वहीं, शिवसेना के 29 बागी अगर इस आकड़े में से हट जाए तो ये आकड़ा 123 पर आकर थम जाएगा जो बहुमत से कम होगा. बता दें, इसी आकड़े के चलते बार-बार ये कहा जा रहा है कि अगर ऐसा होता है तो उद्धव सरकार खतरे में आ जाएगी.