November 28, 2022

केंद्रीय मंत्री सिंधिया आज इंदौर पहुंचे, विजयवर्गीय से घर जाकर मुलाकात करेंगे

इंदौर- केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया कुछ ही देर में इंदौर पहुंच रहे हैं। विशेष विमान से आ रहे सिंधिया एयरपोर्ट से सीधे भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से उनके घर जाकर मुलाकात करेंगे। मुलाकात के बाद वे सीधे महाकाल की शाही सवारी में हिस्सा लेने के लिए उज्जैन रवाना होंगे। वे शाम 5 बजे उज्जैन के रामघाट पहुंचेंगे।

जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट व नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे ने बताया कि उज्जैन से वापस लौटकर सिंधिया शाम 6 बजे वरिष्ठ पत्रकार स्व. महेंद्र सेठिया को श्रद्धांजलि देने पहुंचेंगे। इसके बाद वे बायपास स्थित अम्बर गार्डन में आयोजित पार्टी के कार्यक्रम में शामिल होंगे।

मप्र के दो नेताओं को हटाने के बाद दो अहम मुलाकातों का दिन
सोमवार का दिन प्रदेश की राजनीति के लिए अहम है। भाजपा की शीर्ष कमेटी संसदीय दल से शिवराज सिंह चौहान को हटाया गया और भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से पश्चिम बंगाल का प्रभार लिया गया। आज दोनों ही हटाए गए नेताओं से केंद्रीय नेतृत्व की मीटिंग है। शिवराजसिंह चौहान से गृहमंत्री अमित शाह मुलाकात करेंगे तो इंदौर में विजयवर्गीय और सिंधिया की मीटिंग होगी। हालांकि दोनों मीटिंग के मायने अलग-अलग हैं। लेकिन सियासी समीकरणों को लेकर चर्चाएं होने लगी हैं।

तब दोनों धुर विरोधी थे
इसके पूर्व एक समय में एक-दूसरे के धुर विरोधी सिंधिया व विजयवर्गीय की पुरानी अदावत उस दौरान से शुरू हुई थी जब 2010 में एमपीसीए के चुनाव में दोनों दो बार आमने-सामने थे। उस समय इस चुनाव ने एक तरह से राजनीतिक रंग ले लिया था, खासकर विजयवर्गीय गुट ने। इसमें दोनों बार सिंधिया ने विजयवर्गीय को शिकस्त दी थी।

विजयवर्गीय के घर जाकर किया था भोजन
इसके बाद 2020 में सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के बाद दोनों की बीच की दूरियां लगभग खत्म हो गई। केंद्रीय मंत्री बनने के बाद सिंधिया जब इंदौर आए थे तो उन्होंने विजयवर्गीय के घर भोजन किया था। इस दौरान वे काफी देर तक रुके थे। इसके भी कई राजनीतिक मायने निकाले गए थे।

स्वागत रैली के बाद और बढ़ी नजदीकियां
इसके बाद सिंधिया की इंदौर में स्वागत रैली के दौरान इंदौर पहुंचने पर एयरपोर्ट पर विजयवर्गीय ने भीड़ के बीच पहुंचकर उन्हें बुके भेंट कर शुभकामनाएं दी थी। इसी दिन विधानसभा दो में उनका सबसे जोरदार स्वागत किया गया था। फिर पिछले साल एमपीसीए के एक कार्यक्रम में दोनों मिले और जमकर ठहाके लगाए थे। इस दौरान वे काफी समय तक साथ रहे थे।

महापौर के प्रचार के लिए आए थे सिंधिया
हाल ही में नगर निगम चुनाव में महापौर के लिए पुष्यमित्र भार्गव का नाम फाइनल होने के बाद जिस तरह से विजयवर्गीय ने शुरू से ही कमान संभाली। वे खुद नामांकन भरने भार्गव के साथ गए थे। माना जाता है कि भार्गव विजयवर्गीय के सबसे करीबी है। इसी कड़ी में सिंधिया जब इंदौर आए तो उन्होंने ब्रिलियन्ट कन्वेंशन सेंटर में अलग-अलग वर्गों के बीच पहुंचकर उन्हें जिताने की अपील की। इसी रात सिंधिया रात को विधानसभा तीन (विधायक आकाश विजयवर्गीय) पहुंचे और वहां भार्गव को जोरदार वोटों से जिताने की अपील की। ये समीकरण भी दोनों की नजदीकी बयां करते हैं।