November 28, 2022

मामा के राज़ में शराब माफियाओं के हौसले बुलंद, SDM और तहसीलदार को पीटा

धार- मध्य प्रदेश में माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि अब वे आईएएस अधिकारी के साथ भी मारपीट करने लगे हैं। मंगलवार सुबह धार जिले में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां शराब माफियाओं ने एसडीएम और तहसीलदार की बीच सड़क पर पिटाई कर दी। इतना ही नहीं तहसीलदार का अपहरण कर साथ ले गए थे। हालांकि, थोड़े ही देर में उन्हें छोड़ दिया।

मामला धार जिले के कुक्षी थाना क्षेत्र अंतर्गत कुक्षी अलीराजपुर मार्ग पर ग्राम ढोला ढोल्या व आली के बीच का बताया जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक एसडीएम नवजीव सिंह पंवार अपनी प्रशासनिक टीम को लेकर अवैध शराब से भरी एक ट्रक का पीछा कर रहे थे। उनके साथ नायब तहसीलदार राजेश भिड़े भी मौजूद थे। इसी दौरान ट्रक के पीछे चल रही एक अन्य वाहन से कुछ लोग उतरे और प्रशासनिक टीम की ही पिटाई शुरू कर दी।

जानकारी के अनुसार ट्रक क्रमांक एमपी-69 एच-0112 में शराब भरकर कुक्षी से जा रहा था, इस बात की सूचना एसडीएम को मिली। एसडीएम व नायब तहसीलदार ने उक्त वाहन का पीछा किया। ट्रक आलीराजपुर की ओर जा रहा था, तभी रास्ते में ढोल्या व आली के बीच में शराब की गाड़ी व उसके साथ चल रही एक स्कॉर्पियो में बैठे लोग अचानक उतरे व एसडीएम से विवाद करने लगे।

अचानक शराब माफिया से जुड़े लोगों ने नायब तहसीलदार की गाड़ी पर हमला करते हुए हवाई फायर किया व मारपीट शुरु कर दी। नायब तहसीलदार राजेश भिडे के शासकीय वाहन का अगले हिस्से का कांच फोड दिया और नायब तहसीलदार को अपनी गाड़ी में बैठा लिया। कुछ देर बाद माफिया से जुड़े लोगों ने नायब तहसीलदार को छोड़ दिया। घटना मंगलवार सुबह करीब 4 बजे की है।

सूचना पर पहुंचे आबकारी अमले ने उक्त ट्रक को जप्त कर लिया है तथा वाहन की तलाश ली गई, जिसमें शराब की पेटियां रखी हुई है। कांग्रेस ने इस घटना को लेकर सीएम चौहान को निशाने पर लिया है। कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने सीएम चौहान से पूछा कि शराब माफिया को कौन संरक्षण दे रहा है? उनके हौसले बुलंद क्यों हैं? क्या कानून व्यवस्था के मायने खत्म हो गए हैं? मेकअप मैन गृहमंत्री आखिर क्या कर रहे हैं?