October 4, 2022

प्रदेश में बारिश के साथ बिजली गिरने का अलर्ट, इन जिलों में होगी बरसात

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मानसून (Monsoon) अपने अंतिम दौर में है. ऐसे में बारिश (Rain) का सिलसिला अभी भी जारी है. प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में शुक्रवार को भी गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को भोपाल, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, सीहोर, धार, इंदौर, अलीराजपुर, बड़वानी, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, झाबुआ, देवास, मंदसौर, नीमच, अशोकनगर, गुना, ग्वालियर, शिवपुरी, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुर कलां, छतरपुर, सागर, टीकमगढ़, पन्ना, दमोह, निवाड़ी, बैतूल, हरदा और नर्मदापुरम जिलों के ज्यादातर स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं. इसे देखते हुए येलो अलर्ट जारी किया गया है.

मौसम विभाग ने रीवा, सागर, शहडोल, जबलपुर, नर्मदापुरम, भोपाल, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कही-कहीं बिजली गिरने की भी आशंका जताई है. मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार 29 सितंबर तक मध्य प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर बारिश की गतिविधियां बनी रहेंगी.

इसके बाद मौसम शुष्क रहने की संभावना है. इससे पहले मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार गुरुवार को एमपी के रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर, नर्मदापुरम, भोपाल, चंबल और ग्वालियर संभागों के जिलों में ज्यादातर जगहों पर और उज्जैन संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर, जबकि इंदौर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं बारिश दर्ज की गई.

जानिए एमपी में गुरुवार को कहां हुई कितनी बारिश?

इस दौरान खंडवा में 19, कुंडम में 11, अजयगढ और घाटीगांव में 9, वारासिवनी, बामौरी, विजयपुर और बैतूल में 8, बनखेड़ी, बाबई, पिपरिया, सिवनीमालवा, मिहोना में 7, बेनीबारी, कटनी, अमरपाटन, बाजाग, मऊ, भैंसदेही और गोहद में 6 सेमी बारिश दर्ज की गई है. बारिश की वजह से राज्य में लोगों को गुनगुनी ठंड का एहसास हो रहा है. बताया जा रहा है कि सितंबर के अंतिम सप्ताह में मध्य प्रदेश के कुछ क्षेत्राें से मानसून के विदा हाेने की शुरुआत हो जाएगी.