December 10, 2022

प्रदेश में खाद की किल्लत, कमलनाथ बोले- मुख्यमंत्री को किसानों की समस्या क्यों नहीं दिखती

भोपाल- मध्य प्रदेश के किसान लगातार खाद की किल्लत से जूझ रहे हैं। इस बार भी रबी फसल की बोवनी से पहले अधिकांश जिलों में खाद की भयंकर किल्लत है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने खाद की किल्लत को लेकर सीएम चौहान को निशाने पर लिया है। पूर्व सीएम ने कहा है कि शिवराज जी इवेंट से बाहर आएं, तब उन्हें किसानों की समस्या पता चले।

पीसीसी चीफ ने शनिवार को एक ट्वीट थ्रेड में लिखा कि, ‘पता नहीं खुद को किसान पुत्र बताने वाले हमारे शिवराज जी को किसानो की परेशानी क्यों दिखायी नहीं देती है..? अब कह रहे है कि प्रदेश में खाद की कोई कमी नहीं है, पर्याप्त खाद की है व्यवस्था। शिवराज जी, ज़रा किसानो के बीच जाकर वास्तविकता देखें, कितनी खाद की व्यवस्था है, आपको खुद सच्चाई पता चल जायेगी।’

कमलनाथ ने आगे लिखा कि, ‘प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से खाद के लिये कई-कई दिन तक लाइनों में लगे किसानो की रोज़ तस्वीरें सामने आ रही है, खाद की कालाबाज़ारी व मुनाफ़ाख़ोरी की खबरें सामने आ रही है। और आप सच्चाई स्वीकारने की बजाय, खाद की कोई कमी नहीं बोलकर किसान भाइयों का मज़ाक़ उड़ा रहे हैं।’

सीएम चौहान पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने कहा कि, ‘आप इवेंट से बाहर निकलें तब तो आपको किसानो की परेशानी पता चले। असमय हुई वर्षा से किसानो की ख़राब व बर्बाद फसलों को लेकर अभी भी आप उन्हें दिलासे, कोरे आश्वासन दे रहे हैं। उन्हें राहत व मुआवज़ा कब प्रदान करेंगे…? आज किसान भाइयों को भाषण, दिलासे, आश्वासन नहीं बल्कि राहत व मुआवज़ा चाहिये।’

बता दें कि कल ही मुख्यमंत्री शिवराज ने अपने बयान में कहा था कि, ‘प्रिय किसान भाइयों और बहनों, आप सभी अब रबी की बोनी की तैयारियों में लगे हुए हैं। रबी की बोनी के लिए खाद की पर्याप्त उपलब्धता है। यूरिया, डीएपी, पोटाश, एसएसपी सभी तरह की खाद हमारे पास उपलब्ध है, जितनी जरूरत हो, उतनी खाद आप उठाना।’ हालांकि, जमीनी स्थिति यह है कि किसान घंटों लाइन में लगे रहते हैं, बावजूद उन्हें खाद नहीं मिल रही है।