December 10, 2022

डॉक्टर्स की बैठक में बोले कमलनाथ, डॉक्टर एक व्यक्ति नहीं बल्कि समाज का रक्षक होता है

भोपाल- भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि डॉक्टर एक व्यक्ति नहीं बल्कि समाज का रक्षक होता है. उन्होंने कहा कि डॉक्टर प्रोफेशनल होने के साथ समाज का सेवक भी होता है. डॉक्टरी पेशा समाज सेवा से जुड़ी होती है. उन्होंने डॉक्टर्स को नसीहत देते हुए कहा कि आपको प्रोफेशन चलाने के साथ सामाजिक मूल्यों की रक्षा भी करना है. प्रोफेशन में सामाजिक मूल्यों की आज बहुत बड़ी आवश्यकता है. अपना दृष्टिकोण बदलें, आप समाज के रक्षक बनें, संविधान के रक्षक बनें और सामाजिक मूल्यों के रक्षक बनें. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने मध्यप्रदेश कांग्रेस स्वास्थ्य एवं चिकित्सा प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित किया. बैठक में ढाई सौ से अधिक एलॉपैथी, आयुष, नर्स, डेंटल, पैरामेडिकल, स्वास्थ्य कर्मियों ने भाग लिया.

‘समाज को बांटने का काम किया जा रहा है’

उन्होंने कहा कि आज का युवा भटक रहा है. नौजवानों का भविष्य अंधकार में रहेगा तो प्रदेश का नवनिर्माण कैसे होगा. सबसे बड़ी चुनौती हमारे आपके सामने है. हमें प्रदेश की भ्रष्टाचारी, झूठ, फरेब और दिखावे की तस्वीर को बदलकर नई पहचान बनाना होगा और इसके लिए आप सब सच्चाई का साथ दें. आज समाज को बांटने का काम किया जा रहा है .उन्होंने कहा कि आप सब रक्षक हैं. संविधान, देश की संस्कृति के आपको रक्षक बनकर ही रहना है. बैठक को को विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने भी संबोधित किया.